मध्य प्रदेश: कमलनाथ सरकार से अबतक 22 विधायकों ने दिया इस्तीफा, यहां पर जानें विधानसभा का पूरा अंक-गणित

मध्य प्रदेश: भाजपा ने इस तरह बुना कमलनाथ सरकार के लिए चक्रव्यूह!

मध्य प्रदेश: ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस से इस्तीफे के बाद मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को करारा झटका लगा है। ज्योतिरादित्य के अलावा अब तक 22 विधायकों ने भी राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। इसी के साथ मध्य प्रदेश में कांग्रेस पार्टी पर खतरा मंडरा है। देशभर में कमलनाथ सरकार के बारे में चर्चा हो रही है। साथ ही देश के सियासी गलियारों में ये सवाल खड़े हो रहे हैं कि क्या कमलनाथ की सरकार बचेगी या गिरेगी? कमलनाथ सरकार से 22 विधायकों समेत कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य के इस्तीफे के बाद मध्य प्रदेश सरकार सवालों के घरे में आ गई है क्योंकि विधायकों के इस्तीफे के बाद विधानसभा में सदस्यों की संख्या का अंक गणित बदल गया है।

मध्य प्रदेश विधानसभा गणित

मध्य प्रदेश में कुल 230 विधायकों वाली सस्दय विधानसभा है। इसमें से दो विधायकों के निधन के बाद वर्तमान में कुल 228 विधायक हैं। मौजूदा समय में कांग्रेस के पास 114 विधायक हैं। इसके अलावा 4 निर्दलीय, 2 बसपा और एक सपा के विधायकों का भी कांग्रेस को समर्थन है। जबकि भाजपा के पास 107 विधायक हैं।


मध्य प्रदेश सरकार का अंक गणित ऐसे समझें

मध्य प्रदेश में वर्तमान में 228 सीटें हैं। सियासी उठापटक से पहले कांग्रेस के पास कुल 114 विधायक थे। इसके अलावा 7 अन्य पार्टी के विधायकों का समर्थन भी हासिल था। अब इसमें से कांग्रेस के ज्योतिरादित्य समेत 22 विधायकों ने अपना मंगलवार (10मार्च) को इस्तीफा दे दिया है। इसके अलावा खबरों के मुताबिक, सपा और बसपा के एक-एक विधायकों ने भी कांग्रेस से इस्तीफा देने को कहा है। ऐसे में कमलनाथ सरकार के पास कुल 97 विधायक बचते हैं और विधानसभा में विधायकों की संख्या 206 बचती है। इसी विधानसभा की गणित के मुताबिक, राज्य में सरकार बनाने के लिए किसी भी दलों के पास 104 विधायकों के का समर्थन हासिल होना चाहिए। ऐसे सवाल उठता है कि कमलनाथ सरकार क्या बहुतमत के आंकड़ा पार कर पाएगी?

मौजूदा सियासी खीचातान के मुताबिक, मध्य प्रदेश की सबसे बड़ी विपक्षीय पार्टी बीजेपी के पास बहुमत का आंकड़ा दिख रहा है। मध्य प्रदेश में भाजपा के पास मौजूदा समय में कुल 107 विधायक हैं।

क्या बीजेपी अविश्वास प्रस्ताव लाएगी?

अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक ज्योतिरादित्य की भाजपा में शामिल होने की खबर नहीं आई है। हालांकि देश में कयास लगाए जा रहे हैं कि वे बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। 16 मार्च को मध्य प्रदेश विधानसभा सत्र शुरू हो रहा है अगर बीजेपी अविश्वास प्रस्ताव लाती है तो मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार गिर जाएगी। अब देखना होगा कि क्या बीजेपी अविश्वास प्रस्ताव लाती है या नहीं?



Coronavirus News Updates: ईरान में कोरोना वायरस से एक दिन में 54 लोगों की हुई मौत, ईरान में इसकी सख्या पहुंची 291

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)