सैलून जाते समय जेब में आधार कार्ड रखना न भूलें, इस राज्य सरकार ने जारी किए सख्त आदेश

सैलून जाते समय जेब में आधार कार्ड रखना न भूलें, इस राज्य सरकार ने जारी किए सख्त आदेश

भारत में कोरोना वायरस के मामले में काफी तेजी से बढ़ रहे हैमंगलवार सुबह तक देशभर में कोरोनावायरस के कुल मामलों की संख्या 1 लाख 98 हजार के आंकड़े को पार कर चुकी है, तो वहीं इस महामारी की वजह से अभी तक करीब 5600 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है

इनके अलावा 95 हजार से ज्यादा मरीज अब तक ठीक हो चुके हैंकोरोना वायरस महामारी के बीच 1 जून से सरकार ने देश के नागरिकों को कई तरह की रियायत दी हैजिसमें काफी लंबे वक़्त से बंद पड़े सैलून को खोले जाने की भी इजाजत मिल गई हैं


केंद्र सरकार की नई गाइडलाइंस के मुताबिक कई राज्यों ने अभी सैलून खोलने के ऑर्डर नहीं दिए हैं। लेकिन, तमिलनाडु सरकार ने कुछ नियमों और शर्तों के साथ राज्य में सैलून खोलने की अनुमति दे दी है।

तमिलनाडु सरकार ने बकायदा एक प्रेस रिलीज जारी कर कहा है कि सैलून ऑपरेटर केवल 50 फीसदी स्टाफ के साथ ही दुकान खोलेंगे। इसके साथ ही जो भी कस्टमर सैलून में आएंगे उन्हें अपना आधार कार्ड जरूर दिखाना होगा।

सैलून मालिकों को साफ हिदायत दी गई है कि दुकान में आने वाले हर एक कस्टमर का नाम, पता, फोन नंबर और आधार नंबर अपने रजिस्टर में दर्ज करें। तमिलनाडु में राज्य सरकार के नियमों को ध्यान में रखते हुए सैलून और ब्यूटी पार्लर की दुकानें अब खोल दी गई हैं।


सैलून में फेस मास्क, ग्लव्स पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। इसके अलावा सोशल डिस्टेंसिंग के साथ साफसफाई का भी विशेष ध्यान रखना होगा। जो भी सरकार के इन नियमों की अनदेखी करेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने के आदेश दिए गए हैं।

आपको बता दें कि तमिलनाडु में अभी तक कोरोना के 23 हजार से मामले दर्ज किए जा चुके हैं। राज्य में 184 लोगों की कोविड-19 से मौत भी हो गई है। ऐसे में सरकार की पूरी कोशिश है कि किसी भी तरह कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोका जा सके।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)