आईएसएल-5 : प्लेऑफ की उम्मीदों को जिंदा रखना चाहेगा एटीके

  • Follow Newsd Hindi On  

फातोर्दा (गोवा), 13 फरवरी (आईएएनएस)| दो बार का चैम्पियन होरी इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पाचंवें सीजन के प्लेऑफ में पहुंचने के लिए संघर्ष कर रहा है। उसे प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखने के लिए हर मैच में जीत दर्ज करनी होगी।

इस क्रम में गुरुवार को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में उसका सामना मेजबान एफसी गोवा से होगा। स्टीव कोपेल की टीम को यह दिमाग में रखकर गोवा से भिड़ना होगा कि इस सीजन में उसने 15 मैचो में इतने ही गोल खाए हैं और उसका डिफेंसिव रिकार्ड संयुक्त रूप से सबसे अच्छा रहा है।


एटीके अभी 21 अंकों के साथ छठे स्थान पर है। उसके आगे जाने की संभावना है लेकिन इसके लिए उसे एक टीम के रूप में खेलते हुए अपने बाकी के सभी मैच जीतने होंगे।

इस सीजन में दोनों टीमों के बीच जब अंतिम बार भिड़ंत हुई थी तो कोई गोल नहीं हो सका था। अब अगर वही परिणाम फिर सामने आता है तो इससे किसी को फायदा नहीं होगा। पांचवें सीजन में सबसे अधिक गोल करने वाली गोवा की टीम को हर हाल में एटीके के डिफेंस को भेदकर तीन अंक हासिल करने होंगे।

कोपेल ने कहा, “आप गोवा टीम को जब देखते हैं तो महसूस करते हैं कि उसके पास बेहतरीन खिलाड़ी हैं और एक बहुत अच्छा कोच भी है, जो इस टीम को एक इकाई में पिरोकर रखता है लेकिन हमारा काम इससे अलग है। हमें अपने सफर को जारी रखने के लिए जीत हासिल करनी है। अगर हम इस सीजन में इससे पहले यहां आए होते तो ड्रॉ एक अच्छा परिणाम होता लेकिन अभी हमारे लिए ड्रॉ एक अच्छा परिणाम नहीं होगा। हमें हर हाल में जीतना होगा।”


एटीके को अपने पिछले मैच में एफसी पुणे सिटी से 2-2 से ड्रॉ खेलना पड़ा था। इस टीम ने अंतिम मिनटों में बराबरी का गोल खाया था। बीते तीन मैचों में इस टीम ने अंतिम पलों में गोल खाए हैं और यह इसके लिए चिंता का सबब है।

गोवा को उसके घर में हराने के लिए मैनुएल लेंजारोते और इदु बेदिया की जोड़ी को कमाल करना होगा। यह जोड़ी कोलकाता में जमशेदपुर के खिलाफ काफी घातक साबित हुई थी लेकिन बीते मैच में यह जोड़ी कोई कमाल नहीं कर सकी। इसके अतिरिक्त लेंजोरोतो अपनी पूर्व टीम के खिलाफ भी अच्छा करने के लिए बेताब होंगे। हालांकि, गोवा के कोच सर्गियो लोबेरा मानते हैं कि लेंजारोते से बड़ा खतरा गार्सिया हो सकते हैं।

लोबेरा ने कहा, “मैं मानता हूं कि हमारा सामना एक महान टीम से होने जा रहा है लेकिन मैं सिर्फ अपनी खिलाड़ियों के बारे में बात करना चाहता हूं। हमें किसी एक खिलाड़ी को नहीं बल्कि एक टीम को हराना है। इस समय मैं समझता हूं कि इदु गार्सिया एटीके लिए अहम साबित हो सकते हैं।”

बीते सीजन में लोबेरा की टीम ने जमशेदपुर के प्लेऑफ में जाने की उम्मीदों पर पानी फेरा था और इस समय कोपेल जमशेदपुर के कोच थे। अब वह एटीके के कोच हैं और दो बार की चैम्पियन टीम की भी वही स्थिति है। अब देखने वाली बात यह है कि गोवा को हराकर एटीके इस दोराहे को पार कर पाती है या फिर घर वापसी करती है।

 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)