आईएसएल-6 : मुंबई के कमजोर डिफेंस की परीक्षा लेगा गोवा (प्रीव्यू)

मुंबई, 6 नवंबर (आईएएनएस)| मुंबई सिटी एफसी हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के छठे सीजन में गुरुवार को यहां मुंबई फुटबाल एरेना में एफसी गोवा के खिलाफ होने वाले अपने अगले मुकाबले में अपना डिफेंस मजबूत करने के इरादे के साथ मैदान पर उतरना चाहेगा। मुंबई सिटी ने पिछले सीजन में चार बार एफसी गोवा का सामना किया था, जिसमें से तीन बार गोवा ने जीत दर्ज की थी जबकि एक ही बार मुंबई को जीत मिली थी। गोवा ने उन चार मैचों में मुंबई के कमजोर डिफेंस का फायदा उठाकर 12 गोल दागे थे।

मुंबई सिटी एफसी के मुख्य कोच जॉर्ज कोस्टा की टीम को लीग के इस सीजन में अपने पिछले घरेलू मुकाबले में ओडिशा एफसी के हाथों 4-2 से हार का सामना करना पड़ा। कोस्टा की मुश्किल यह है कि डिफेंस में उसके कई खिलाड़ी चोटिल हैं और इनमें माटो गार्गिक भी हैं, जिनका कि अगले मैच में खेलना तय नहीं लग रहा है।


स्टार फॉरवर्ड मोडौ सौगु भी चोट से पूरी तरह से नहीं उबरे हैं। इससे कोस्टा के लिए आक्रमण में अब विकल्प काफी कम रह गए हैं। इसके अलावा ओडिशा मैच से पहले चोटिल होने वाले रोवलिन बोगर्स भी इस मैच में नहीं खेल पाएंगे।

कोस्टा ने कहा, “ओडिशा के खिलाफ मिली हार के बाद मैंने खिलाड़ियों से बातचीत की। हमें अपनी गलतियों को ठीक करना होगा और इन गलतियों से बचने पर ध्यान देना होगा। फुटबाल में अगर आप अतिआत्मविश्वास में आ जाते हैं तो फिर यह एक समस्या है।”

उन्होंने कहा, “मुझे यह आसान मैच नहीं लग रहा है। लेकिन, मुझे विश्वास है कि एफसी गोवा भी इस मैच को आसान नहीं मान रहा होगा। हम उनका सम्मान करते हैं और वे हमारा।”


मुंबई की टीम को सर्जियो लोबेरा के मार्गदर्शन वाली एफसी गोवा के खिलाफ हमेशा से संघर्ष करना पड़ा है। लेकिन गोवा के लिए भी यह सीजन अब तक ज्यादा अच्छा नहीं रहा है।

चेन्नइयन एफसी के खिलाफ मिली 3-0 की जीत के बाद गोवा को बेंगलुरू एफसी और नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी के खिलाफ खेले गए कड़े मुकाबले में ड्रॉ खेलना पड़ा है। दोनों मैचों में टीम ने इंजुरी टाइम में गोल करके मैच ड्रॉ कराया है।

गोवा के लिए फेरान कोरोमिनास अब तक दो गोल कर चुके हैं, लेकिन हुगो बौमस और इदु बेदिया के चोटिल होने से टीम के लिए आगे की राह आसान नहीं होने वाली है।

यह वही मैदान है, जहां पर गोवा को फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन लोबेरा चाहेंगे कि उनकी टीम पिछली यादों को पीछे छोड़कर मैच में तीन अंक हासिल करे।

लोबेरा ने कहा, “मैं चाहूंगा कि मेरे खिलाड़ियों को यह याद रहे कि उन्होंने सेमीफाइनल में मुंबई के खिलाफ 5-1 से जीत दर्ज की थी। मुझे लगता है कि प्रत्येक मैच महत्वपूर्ण है। मुझे लगता है कि यह एक मुश्किल मैच होने वाला है क्योंकि हम एक बहुत ही अच्छी टीम के खिलाफ खेलने जा रहे हैं। हमारे लिए बीती बातें ज्यादा मायने नहीं रखती हैं।”

 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)