अकबर की वकील ने गवाह से पूछा, ‘क्या आप कमरे में भूत की तरह मौजूद थीं’

नई दिल्ली, 26 अक्टूबर (आईएएनएस)| पूर्व केंद्रीय मंत्री एम. जे. अकबर की ओर से एक वकील ने शुक्रवार को पत्रकार प्रिया रमानी की दोस्त से पूछा, “क्या वह कमरे (होटल का कमरा जहां साक्षात्कार लिया गया था) में किसी भूत की तरह मौजूद थी?” अकबर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली पत्रकार प्रिया रमानी की दोस्त निलोफर वेंकटरमण ने शुक्रवार को दिल्ली की एक अदालत में इस कथित घटना की उन जानकारियों को साझा किया जो पीड़िता ने उसे बताई थी।

वरिष्ठ अधिवक्ता गीता लूथरा ने निलोफर वेंकटरमण से पूछा, “क्या आप कमरे में तीसरी भूत थी? फिर तो आपने वोदका का रंग भी देखा होगा।”


रमानी ने पिछले दिनों अकबर पर मुंबई के एक होटल के कमरे में कथित तौर पर यौन दुर्व्यवहार का आरोप लगाया था। इसके बाद अकबर ने ‘मी टू’ अभियान में उनका नाम घसीटे जाने के बाद रमानी के खिलाफ एक मानहानि की शिकायत दर्ज कराई थी।

वेंकटरमण ने कहा, “उन्होंने मुझे जो बताया, वह इतना विचित्र और अनुचित था कि मेरे मन में आज तक इसकी तस्वीर है।”

इस घटना के बारे में बताते हुए वेंकटरमण ने कहा, “मैं तब नरीमन प्वाइंट पर थी, जब प्रिया ने मुझे साक्षात्कार से एक घंटे पहले मिलने का अनुरोध किया, ताकि मैं उसे साक्षात्कार के लिए तैयार कर सकूं।”


वेंकटरमण ने साक्षात्कार के बाद की जानकारी साझा करते हुए कहा, “उस रात बाद में प्रिया ने मुझे मेरे लैंडलाइन पर कॉल की। वह परेशान और व्याकुल लग रही थी। मैंने उससे इसका कारण पूछा तो उसने मुझे बताया कि जैसी हमने चर्चा की थी, साक्षात्कार वैसा नहीं गया। साक्षात्कार कॉफी शॉप या रेस्तरां में नहीं हुआ था बल्कि उसे अकबर के कमरे में बुलाया गया।”

वेंकटरमन ने अदालत को बताया, “रमानी ने बताया कि उसे कुछ खराब सा लगा, क्योंकि अकबर ने उसे शराब की पेशकश की और वह खुद भी शराब पी रहे थे। उन्होंने रमानी को इशारा करके सोफे पर उनके साथ बैठने के लिए कहा।”

आरोपों के बाद विदेश मामलों के लिए तत्कालीन राज्य मंत्री अकबर को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था।

 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)

You May Like