अल्पमत में होने के कारण शक्ति परीक्षण से भाग रही कमल नाथ सरकार : तोमर

नई दिल्ली, 16 मार्च (आईएएनएस)| केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सोमवार को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ पर शक्ति परीक्षण से ‘भागने’ का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि शक्ति परीक्षण से बचने से ही पता चलता है कि राज्य में सरकार अल्पमत में है। केंद्रीय मंत्री तोमर का यह बयान, मध्यप्रदेश विधानसभा के 26 मार्च तक के लिए स्थगित होने के बाद आया है। भाजपा ने सोमवार को शुरू हुए बजट सत्र के पहले दिन ही शक्ति परीक्षण की जोरदार मांग उठाई, मगर अध्यक्ष ने विधानसभा का सत्र ही स्थगित कर दिया।

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा, “कमल नाथ का कहना है कि वह शक्ति परीक्षण के लिए तैयार हैं, मध्य प्रदेश के विपक्षी नेताओं ने राज्यपाल से शक्ति परीक्षण की मांग की और उन्होंने आदेश भी दिया। फिर भी फ्लोर टेस्ट से भागने से पता चलता है कि कमल नाथ सरकार अल्पमत में है।”


मध्यप्रदेश विधानसभा का सत्र 26 मार्च तक स्थगित रहेगा। मंत्री गोविंद सिंह के अनुरोध पर विधानसभा अध्यक्ष ने कोरोना वायरस के खतरे का हवाला देते हुए विधानसभा को दस दिन के लिए स्थगित कर दिया।

राज्यपाल की ओर से 16 मार्च को ही शक्ति परीक्षण कराने के आदेश पर मुख्यमंत्री कमल नाथ ने उन्हें लिखे पत्र में इसे अलोकतांत्रिक बताया था। कहा था कि कांग्रेस विधायकों को बंधक बनाए जाने की स्थितियों में शक्ति परीक्षण कराना अलोकतांत्रिक है।

 


(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)