विरोध प्रदर्शनों के बीच आंध्र प्रदेश पहुंचे PM मोदी, ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #GoBackModi

गुंटूर (आंध्र प्रदेश)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को विरोध प्रदर्शनों के बीच आंध्र प्रदेश के गुंटूर में विकास परियोजनाओं का अनावरण किया। राज्यभर में मोदी के दौरे के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं। एक कार्यक्रम में, उन्होंने औपचारिक रूप से उन परियोजनाओं का अनावरण किया, जो राज्य के विभिन्न हिस्सों में बनाई गई हैं या बनाई जाएंगी।

उन्होंने इंडियन स्ट्रेटेजिक पेट्रोलियम रिजर्व लिमिटेड (आईएसपीआरएल) की 1,178 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 13.3 लाख मीट्रिक टन की क्षमता वाली विशाखापत्तनम स्ट्रेटेजिक पेट्रोलियम रिजर्व (एसपीआर) फैसिलिटी को समर्पित किया।


प्रधानमंत्री ने कृष्णा-गोदावरी अपतटीय बेसिन पर अमलापुरम में तेल और प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड की वशिष्ठ और एस1 विकास परियोजना का भी उद्घाटन किया। मोदी ने कृष्णापटनम में भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) के एक नए टर्मिनल की स्थापना के लिए आधारशिला भी रखी। इसे 700 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जाएगा।

राज्यपाल ई.एस.एल. नरसिम्हन और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेताओं ने विजयवाड़ा के गन्नवरम हवाईअड्डे पर मोदी की अगवानी की। बाद में वह हेलीकॉप्टर से गुंटूर के लिए रवाना हो गए।

इस बीच, काले कपड़े पहने हुए और काले झंडों के साथ प्रदर्शनकारियों ने आंध्र प्रदेश को विशेष श्रेणी का दर्जा ( एसीएस) देने की मांग को दोहराते हुए राज्यभर में धरना दिया और विरोध प्रदर्शन किया। वाम दलों के नेताओं ने गुंटूर में विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने राज्य के साथ ‘विश्वासघात’ करने को लेकर मोदी की रैली को बाधित करने की धमकी दी। इसके अलावा ट्विटर पर भी #GoBackModi ट्रेंड हो रहा है। कई लोग इसके साथ विरोध की तस्वीरें पोस्ट कर रहे हैं।


तेदेपा द्वारा पिछले साल भाजपा के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से नाता तोड़ लिए जाने के बाद मोदी का यह पहला आंध्र प्रदेश दौरा है।

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)