Ayodhya Verdict LIVE Updates: PM मोदी शाम 6 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे

Ayodhya Verdict: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब आगे क्या..

Ayodhya Verdict Live Updates: आज शनिवार को राजनीतिक दृष्टि से संवेदनशील राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले पर सुप्रीम कोर्ट फैसला सुनायेगा।

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति एस ए बोबडे, न्यायमूर्ति धनन्जय वाई चन्द्रचूड़, न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति एस अब्दुल नजीर की पांच सदस्यीय संविधान पीठ शनिवार की सुबह साढ़े दस बजे यह फैसला सुनायेगी।


Ayodhya Verdict, Babri Masjid-Ramjanmbhhomi case LIVE UPDATES

05:20 PM: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब से कुछ देर बाद शाम 6 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे। ऐसा माना जा रहा है कि अयोध्या फैसले पर उनका संबोधन हो सकता है।

11:40 AM: सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड के वकील ज़फ़रयाब जिलानी ने कहा- हम फैसले का सम्मान करते हैं लेकिन हम संतुष्ट नहीं है। आगे की कार्रवाई के लिए हम बाद में निर्णय करेंगे।


11:30 AM: सुप्रीम कोर्ट ने कहा – 1992 में बाबरी मस्जिद को ढहाना और 1949 में मूर्तिया रखना गैरकानूनी



11:15 AM: विवादित जमीन रामजन्मभूमि न्यास को, मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट बनाने का आदेश

SC ने कहा – विवादित ढांचे की 2.77 एकड़ ज़मीन हिन्दुओं की दी जाए। केंद्र या राज्य सरकार अयोध्या में ही मस्जिद के लिए सूटेबल और प्रॉमिनेंट जगह पर 5 एकड़ ज़मीन दे। SC ने कहा – पांचों जजों की सहमति से फैसला हुआ है। केंद्र सरकार तीन महीने के भीतर राम मंदिर के लिए ट्रस्ट बनाएगी, ट्रस्ट में निर्मोही अखाड़ा का प्रतिनिधि भी रहेगा।


11:08 AM: रामलला का जमीन पर दावा बरकरार, मुस्लिम पक्ष को वैकल्पिक जगह देने का आदेश 

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि मुस्लिम पक्ष को वैकल्पिक जमीन दी जाए। यानी कोर्ट ने मुस्लिमों को दूसरी जगह जमीन देने का आदेश दिया है। CJI ने कहा – फिलहाल अधिग्रहीत जगह का कब्जा रिसीवर के पास रहेगा। सुन्नी वक्फ बोर्ड को अयोध्या में ही पांच एकड़ ज़मीन मिलेगी।


11:05 AM:  18वीं सदी तक नमाज के सबूत नहीं, लेकिन ढांचा गिराना गैरकानूनी – SC

कोर्ट ने फैसले में कहा कि मुस्लिम पक्ष जमीन पर दावा साबित करने में नाकाम रहा है। 18वीं सदी तक नमाज के सबूत नहीं, लेकिन ढांचा गिराना गैरकानूनी


10:52 AM: कानूनी आधार पर होगा फैसला

अयोध्या मामला: आस्था और विश्वास के आधार पर नहीं होगा मालिकाना हक का फैसला

10:51 AM: मंदिर तोड़कर मस्जिद बनाने की पुख्ता जानकारी नहीं

कोर्ट ने ASI रिपोर्ट के आधार पर अपने फैसले में कहा कि मंदिर तोड़कर मस्जिद बनाने की भी पुख्ता जानकारी नहीं है।


10:50AM: निर्मोही अखाड़े का दावा खारिज

सुप्रीम कोर्ट ने निर्मोही अखाड़े का दावा खारिज कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि अखाड़े का दावा लिमिटेशन से बाहर है।


10:20 AM: कोर्ट के अंदर से अपडेट आने लगे हैं। सभी पक्षकार कोर्ट रूम में बैठ गए हैं। सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की संविधान पीठ ठीक साढ़े 10 बजे से फैसला सुनाना शुरू कर देगी।


10:10 AM: मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई सुप्रीम कोर्ट पहुंचे। उनकी अध्यक्षता वाली 5 जजों की संविधान पीठ सुनाएगी अयोध्या विवाद पर ऐतिहासिक फैसला।


09:10 AM: फैसला आने के बाद देश को संबोधित करेंगे मोहन भागवत

सर्वोच्च न्यायालय द्वारा अयोध्या केस मे निर्णय के पश्चात RSS प्रमुख सरसंघचालक मोहन भागवत आज दोपहर एक बजे दिल्ली में झंडेवालान स्थित केशव कुंज परिसर में मीडिया के माध्यम से देश को संबोधित करेंगे।

08:48 AM: पंजाब के मुख्यमंत्री की अयोध्या फैसले से पहले शांति बनाए रखने की अपील

राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले में अपना फैसला सुनाने वाला है, इससे कुछ घंटे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने राज्य की कानून व्यवस्था की समीक्षा की और लोगों से अपील करते हुए कहा कि फैसला जो भी हो वे हर परिस्थति में शांति बनाए रखें। एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ स्थिति पर चर्चा की।

08:00 AM: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद हिन्दू-मुस्लिम विवाद का अंत हो जाएगा : इकबाल अंसारी

बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद आज से हिन्दू-मुस्लिम विवाद का अंत हो जाएगा। फैसले के मद्देनजर अंसारी ने कहा कि सभी नेता और समाज के प्रतिनिधित्व करने वाले वर्ग यही संदेश दे रहे हैं कि अदालत का फैसला माना जाएगा और उस फैसले को लेकर कोई भी ऐसी बात न की जाए जिससे किसी को तकलीफ हो।

10:40 PM: PM मोदी ने ट्वीट कर लिखा- फैसला भारत की शांति, एकता और सद्भावना की महान परंपरा को और बल दे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले पर शनिवार को उच्चतम न्यायालय का फैसला आने से पहले देशवासियों से शांति बनाए रखने की अपील की है। PM मोदी ने शुक्रवार रात सिलसिलेवार ट्वीट कर यह अपील की।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ‘अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट का जो भी फैसला आएगा, वो किसी की हार-जीत नहीं होगा। देशवासियों से मेरी अपील है कि हम सब की यह प्राथमिकता रहे कि ये फैसला भारत की शांति, एकता और सद्भावना की महान परंपरा को और बल दे।’

10:30 PM अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी

वहीं सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मद्देनज़र शुक्रवार को अयोध्या में सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है। राम जन्मभूमि मंदिर की तरफ जाने वाले सारे रास्ते बंद कर दिए गए हैं। अब वहां से सिर्फ़ पैदल गुज़रा जा सकेगा। पूरे यूपी में पुलिस दंगों से निपटने के लिए रिहर्सल कर रही है। टेंपरेरी जेलें बना दी गई है। वहां जरूरत पड़ने पर गिरफ्तार लोगों को रखा जा सकेगा।

10:20 PM: शिवसेना ने कहा, सरकार श्रेय न ले

अयोध्या पर फैसले से पहले शिव सेना ने बयान जारी किया। शिवसेना ने कहा है कि हमने केंद्र सरकार से राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाने के लिए कहा था, लेकिन सरकार ने ऐसा नहीं किया। अब जब सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला सुनाने जा रहा है, तो उसे इसका श्रेय नहीं लेना चाहिए।

10:00 PM: उत्तर प्रदेश में स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद

राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले पर शनिवार को उच्चतम न्यायालय के फैसले के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के सभी स्कूल, कॉलेज, शिक्षण संस्थाएं और ट्रेनिंग सेंटर 9 से 11 नवंबर तक बंद रहेंगे।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)