भोपाल से करीना कपूर को कांग्रेस उम्मीदवार बनाने की मांग, पार्टी नेता ने राहुल को लिखा पत्र

Kareena Kapoor Khan Congress candidate from Bhopal Rahul Gandhi भोपाल से करीना कपूर को कांग्रेस उम्मीदवार बनाने की मांग, पार्टी नेता ने राहुल गांधी को लिखा पत्र | Newsd

 भोपाल| मध्य प्रदेश में कांग्रेस बेहतर प्रदर्शन करना चाहती है और इसी क्रम में वह जीतने वाले उम्मीदवारों की तलाश में जुटी है। यही कारण है कि भोपाल संसदीय क्षेत्र से करीना कपूर को उम्मीदवार बनाए जाने की मांग उठी है। इस संदर्भ में कांग्रेस पार्षद योगेंद्र सिंह चौहान उर्फ गुड्डू चौहान ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र लिखा है।

भोपाल संसदीय क्षेत्र भाजपा का गढ़ बन चुका है। यहां से लगातार भाजपा जीतती आई है, कांग्रेस इस सीट पर कब्जा करना चाहती है, इसी के चलते पार्षद चौहान ने सोमवार को राहुल गांधी को पत्र लिखा है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि आगामी लोकसभा चुनाव महत्वपूर्ण है, इसलिए भोपाल संसदीय क्षेत्र से करीना कपूर को उम्मीदवार बनाया जाए।


चौहान ने कहा है कि करीना को उम्मीदवार बनाए जाने से कांग्रेस को भोपाल में विजयश्री प्राप्त होगी। इसलिए, पार्टी को अभिनेत्री को उम्मीदवार बनाना चाहिए।

ज्ञात हो कि, करीना भोपाल के नवाब परिवार की बहू हैं। उनके पति सैफ अली खान है। उनका भोपाल आना-जाना भी होता है। पूर्व में पटौदी परिवार के मंसूर अली खान पटौदी ने वर्ष 1991 में भोपाल संसदीय क्षेत्र से लोकसभा का चुनाव लड़ा था, मगर जीत नहीं मिली थी।

वैसे तो पटौदी घराना गुरुग्राम के पास पटौदी क्षेत्र के रहने वाले हैं, लेकिन भोपाल से उनका संबंध तीन पीढ़ी पहले से है। उस वक्त नवाब इफ्तिखार अली खान पटौदी की शादी तत्कालीन भोपाल के नवाब की बेटी बेगम साजिदा सुल्तान से हुई थी। बेगम साजिदा भोपाल के नवाब हमीदुल्ला खान की दूसरी बेटी थीं।


जब राजीव गांधी 1991 में फिर से सत्ता में वापसी करना चाह रहे थे तब नवाब पटौदी राजनीति में उतरे। पटौदी का राजनीतिक रण भोपाल ही था। राजीव गांधी को विश्वास था कि पटौदी को जीत मिलेगी क्योंकि गरीबों को जमीन दान में देने के कारण भोपाल के नवाब काफी प्रसिद्ध थे। साजिदा सुल्तान की मौत के बाद शहर की मस्जिदों, दरगाह, कब्रिस्तान का उत्तराधिकार पटौदी के पास आ गया।

इस संपत्ति की कीमत आज के हिसाब से करीब एक हज़ार करोड़ है। लेकिन 2011 में पटौदी की मौत के बाद सैफ की बहिन सबा अली खान को उनकी संपत्ति का उत्तराधिकार मिला। सबा ज्वैलरी डिज़ाइनर हैं। अभी तक सबा कई वक्फ संपत्तियों की उत्तराधिकारी हैं।


स्मृति ईरानी विपक्ष पर हमले के लिए भाजपा का प्रमुख चेहरा?

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)