बिहार की इस एक्सप्रेस ट्रेन की बोगियों पर दिखेगा ‘लौहपुरूष’ सरदार पटेल का जीवन दर्शन

बिहार की इस एक्सप्रेस ट्रेन की बोगियों पर दिखेगा 'लौहपुरूष' सरदार पटेल का जीवन दर्शन

पटना | राष्ट्र के एकीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभानेवाले सरदार वल्लभाई पटेल की जयंती के मौके पर इस बार रेलवे उनकी जीवनी और और उनके जीवन दर्शन को जन-जन तक पहुंचाने की तैयारी में है। इसी क्रम में रेलवे मुजफ्फरपुर-अहमदाबाद-मुजफ्फरपुर तक परिचालन वाली जनसाधारण एक्सप्रेस (ट्रेन संख्या-15269/15270) की बोगियों को ‘लौह पुरूष’ के जीवन से जुड़ी घटनाओं की तस्वीरों से सजाया जा रहा है। पटेल की जयंती (31 अक्टूबर) से इस ट्रेन में यात्रा करने वाले लोग पटेल के जीवन दर्शन को समझ सकेंगे।

पूर्व-मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने आईएएनएस को सोमवार को बताया, “राष्ट्रीय एकता के सूत्रधार और राष्ट्र के एकीकरण में सरदार पटेल के योगदान की थीम वाली विनाइल रैपिंग यानी प्लास्टिक कोटेड पेंटिंग से सुजज्जित नई एलएचबी रेक के साथ परिचालित होगी। यात्री यात्रा के साथ ही सरदार पटेल के विषय में विशेष जानकारी भी हासिल कर सकेंगे।”


उन्होंने कहा कि पटेल के जीवन दर्शन के लिए ट्रेन की बोगियां तैयार की गई हैं।

उन्होंने कहा, “पटेल की जयंती के अवसर पर ‘राष्ट्रीय एकता दिवस’ के दिन मुजफ्फरपुर व अहमदाबाद के बीच चलने वाली जनसाधारण एक्सप्रेस का एलएचबी रैक से परिचालन का भी शुभारंभ होगा। इसमें राष्ट्र के एकीकरण में सरदार पटेल के योगदान को दर्शाती विनाइल रैपिंग प्रदर्शित की जा रही है।”

कुमार ने बताया, सभी तस्वीरें उनके जीवन के क्रम में लगाई जाएगी, उनके जीवन सफर को भी समझा जा सकेगा और लगाई गई तस्वीरें जल्द खराब नहीं होंगी।


इस ट्रेन के प्रवेश द्वार पर भी सरदार पटेल से जुड़ी तस्वीरें होंगी।

गौरतलब है कि इससे पहले पूर्व-मध्य रेलवे ने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में बापू के संदेशों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए मुजफ्फरपुर से दिल्ली के आनंद विहार तक जाने वाली सप्तक्रांति एक्सप्रेस की बोगियों को गांधीजी के जीवन से जुड़ी घटनाओं की तस्वीरों से सजाया गया था। गांधी जयंती (2 अक्टूबर) से ‘मोहन से महात्मा’ थीम पर आधारित इस चलंत प्रदर्शनी को इस ट्रेन में यात्रा करने वाले देख पा रहे हैं।

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)