बिहार में विवाहिता को जिंदा जलाने के लिए सजाई चिता, पुलिस ने बचाया

बिहार में विवाहिता को जिंदा जलाने के लिए सजाई चिता, पुलिस ने बचाया

आरा, 22 जनवरी| बिहार के भोजपुर जिले के संदेश थाना क्षेत्र में एक विवाहिता को श्मसान घाट ले जाकर चिता सजाकर जिंदा जलाने की कोशिश करने का मामला प्रकाश में आया है। पुलिस के त्वरित कार्रवाई के बाद विवाहिता को बचा लिया गया। विवाहिता ने पति सहित ससुराल वालों पर ऐसा करने का आरोप लगाया है।

पुलिस के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि सोमवार शाम संदेश पुलिस को सूचना मिली कि सोन नदी के सारीपुर घाट पर चिता सजाकर किसी महिला को जिंदा जलाने की कोशिश की जा रही है। पुलिस ने सूचना के बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए घटनास्थल पर पहुंच विवाहिता को चिता से उठाया और संदेश रेफरल अस्पताल में भर्ती करा दिया, जहां उसकी स्थिति अब स्थिर बनी हुई है।


पुलिस के मुताबिक, उस समय महिला पूरी तरह बेसुध थी।

संदेश के थाना प्रभारी अवधेश कुमार ने बताया कि बचरी गांव निवासी भगवान ठाकुर की पुत्री लक्ष्मी देवी का विवाह 10 साल पहले संदेश के रहने वाले रविन्द्र ठाकुर के साथ हुआ था। आरोप है कि लक्ष्मी को ससुराल में प्रारंभ से ही प्रताड़ित किया जाता रहा है।

थाना प्रभारी ने बताया कि पीड़िता लक्ष्मी के बयान पर संदेश थाना में इस मामले की एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है, जिसमें पति और सास, ससुर को नामजद आरोपी बनाया गया है। उन्होंने बताया कि घटना के बाद से सभी आरोपी फरार हैं, उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।


(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)