बिहार: महाराष्ट्र से लौटे लोगों की जानकारी देना युवक को पड़ा महंगा, पीट-पीटकर मार डाला

आंध्र प्रदेश: 2 रुपये बिहार: महाराष्ट्र से लौटे लोगों की जानकारी देना युवक को पड़ा महंगा, पीट-पीटकर मार डालाको लेकर शुरू हुआ विवाद, शख्स की गई जान

सीतामढ़ी। बिहार के सीतामढ़ी जिले के रून्नीसैदपुर थाना क्षेत्र में एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। युवक ने महाराष्ट्र से लौटे दो लोगों के कोरोना वायरस का संदिग्ध होने की जानकारी स्वास्थ्य विभाग तक पहुंचवाई थी, जिसके कारण पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी गई। इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक, महाराष्ट्र से लौटे दो लोग रून्नीसैदपुर थाना के मंधौल गांव आए थे। उनके महाराष्ट्र से लौटने की जानकारी गांव के ही बबलू राम नाम के एक युवक ने स्वास्थ्य विभाग तक पहुंचवा दी। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने दोनों संदिग्धों का सैंपल लिया।


दोनों संदिग्धों को कोरोना टेस्ट करवाना पसंद नहीं आया और नाराज होकर दोनों ने अपने परिवार के अन्य सदस्यों के साथ मिलकर बबलू की बेरहमी से पिटाई कर दी, जिससे बबलू की मौत हो गई।

रून्नीसैदपुर के थाना प्रभारी डी़ पी़ सिंह ने मंगलवार को बताया, “इस मामले में मृतक के परिजनों के बयान पर हत्या की एक प्राथमिकी रून्नीसैदपुर थाना में दर्ज कर ली गई है, जिसमें छह लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया है।” उन्होंने बताया कि पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है तथा पूरे मामले की छानबीन की जा रही है।

गौरतलब है कि लॉकडाउन होने के बाद दूसरे राज्यों से बड़ी संख्या में लोग बिहार पहुंचे हैं, जिससे इस महामारी का गांवों में फैलने का खतरा और बढ़ गया है। सरकार हर लौटे व्यक्ति की जांच कराने में जुटी है। बिहार में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 15 है।



बिहार: लॉकडाउन के बीच BJP नेता के घर में हो रही थी भोजपुरी फिल्‍म की शूटिंग, केस दर्ज

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)