बिहार में होगी 48 हजार शिक्षकों की बहाली, जुलाई में STET परीक्षा

बिहार में होगी 48 हजार शिक्षकों की बहाली, जुलाई में STET परीक्षा

बिहार में बड़े पैमाने पर शिक्षकों की बहाली होने वाली है। दिसंबर से पहले माध्यमिक एवं प्लस-टू विद्यालयों में कुल 48 हजार खाली पदों पर शिक्षकों की बहाली के लिए जुलाई में माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (STET) ली जाएगी। विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन के निर्देश पर माध्यमिक शिक्षा निदेशालय ने परीक्षा कार्यक्रम तय कर लिया है और इसे शीघ्र ही जारी किया जाएगा।

माध्यमिक शिक्षा निदेशालय के मुताबिक माध्यमिक और प्लस-टू स्कूलों में शिक्षकों के खाली पदों को भरने की तैयारी का निर्देश दिया गया है। इसमें पंचायतों में अपग्रेड किए गए माध्यमिक एवं प्लस-टू स्कूल के 19 हजार पद शामिल हैं। इन स्कूलों में इसी शैक्षणिक सत्र से पढ़ाई आरंभ हो चुकी है, जहां शिक्षकों की कमी है वहां पर गेस्ट फैकेल्टी के जरिये कक्षाएं संचालित हो रही हैं।


योग्‍यता में बीएड जरूरी

अभी जिन 32 हजार माध्यमिक एवं प्लस-टू स्कूलों में नियोजन प्रक्रिया चल रही है, उसमें करीब 29 हजार पद खाली रहने की संभावना है, क्योंकि STET पास अभ्यर्थी ही उपलब्ध नहीं हैं। ऐसे में जुलाई में शिक्षक पात्रता परीक्षा लेकर सितंबर में शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया आरंभ करने की तैयारी है। STET की परीक्षा में माध्यमिक एवं प्लस-टू शिक्षकों के अभ्यर्थियों के लिए अलग-अलग दो पेपर होंगे। माध्यमिक शिक्षक के अभ्यर्थियों के लिए प्रथम पेपर होगा। माध्यमिक शिक्षकों के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम योग्यता स्नातक और बीएड होगी, जबकि प्लस-टू शिक्षक पद के लिए अभ्यर्थियों की योग्यता स्नातकोत्तर और बीएड होगी।

सबसे ज्यादा विज्ञान विषय में नियुक्ति


प्लस-टू स्कूलों में गणित, भौतिक, रसायन, जन्तु विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, हिन्दी, अंग्रेजी के अलावा आर्ट फैकेल्टी विषय से संबंधित शिक्षकों की बहाली होगी। माध्यमिक स्तर विज्ञान, अंग्रेजी, गणित के अलावा अन्य विषयों में शिक्षकों की नियुक्ति होगी।


बिहार: शिक्षा विभाग का बड़ा फैसला, बहाल होंगे 32 हजार शिक्षक, TET-STET सर्टिफिकेट रहेंगे वैध

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)