बिहार: धोखे से गाड़ी में बैठाकर साध्वी के साथ शेखपुरा में गैंगरेप

बिहार: धोखे से गाड़ी में बैठाकर साध्वी के साथ शेखपुरा में गैंगरेप

बिहार के शेखपुरा जिले में एक साध्वी के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। घटना 27 अक्टूबर की है जब नवादा जिले की साध्वी के साथ शेखपुरा में गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया। पीड़ित साध्वी ने शेखपुरा के महिला थाना में दो महिला साध्वी एवं दो उनके सहयोगी के साथ-साथ सहित छह लोगों पर प्राथमिकी दर्ज़ करवाई है। जिसके बाद महिला थानाध्यक्ष यशोदा कुमारी ने प्राथमिकी दर्ज़ करते हुए उसे मेडिकल जाँच हेतु सदर अस्पताल ले जाया गया है।

धोखा देकर बैठाया गाड़ी में

पीड़िता ने बताया कि धोखे से माँ का एक्सीडेंट होने का बहाना बनाते हुए शेखपुरा लाकर उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया है। गैंगरेप की घटना को चार लोगों ने अंजाम दिया। जिनमें से पीड़िता ने दो लोगों की पहचान पुलिस को बताई है। पीड़िता साध्वी ने बताया की दो महिला साध्वी एवं उनके साथ मौजूद दो सहयोगी के साथ जब वह वाहन से शेखपुरा जिले अंतर्गत अरियरी थाना के फुलचोड़ गांव के समीप पहुंची तो एक अन्य वाहन द्वारा ओवरटेक कर वाहन रोक दिया गया। जिसके बाद एक महिला साध्वी द्वारा बाल घसीटते हुए उसे दूसरे वाहन में ले जाया गया जहाँ दो लोग पहले से मौजूद थे। उसके बाद आरोपियों द्वारा वाहन में ही गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया।


रविवार रात को दिया घटना को अंजाम

घटना पर शेखपुरा महिला थाना की थानाध्यक्ष यशोदा कुमारी ने बताया की मामले की जांच शुरू कर दी गई है। थाना में दर्ज कराई गई प्राथमिकी में कहा गया है की 27 अक्टूबर की रात करीब नौ बजे घटना को अंजाम दिया गया। वहीं एसपी दयाशंकर ने बताया कि पीड़िता साध्वी द्वारा कुल छह लोगों पर महिला थाना में प्राथमिकी दर्ज़ कराई गयी है। जिसमें महुआडीह पीरो थाना के कांतिबाई, यूपी के बस्ती के कल्पनाथ चौधरी, पीड़िता के गाँव के ही कुसुम उर्फ़ चरण भाई, छत्तीसगढ़ के दिलचंद पटेल सहित दो अज्ञात शामिल हैं।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)