Bird Flu in Delhi: लाल किले में बर्ड फ्लू से कौओं की मौत, 26 जनवरी तक दर्शकों के लिए रहेगा बंद

  • Follow Newsd Hindi On  

Bird Flu in Delhi: लाल किले (Red Fort) में मृत मिले कौओं के बर्ड फ्लू (Bird Flu) से ग्रस्त होने की पुष्टि के बाद स्मारक भवन में लोगों के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी गई है। दिल्ली सरकार (Delhi Government) के पशुपालन विभाग के निदेशक राकेश सिंह ( Director of animal husbandry department Rakesh Singh) ने बताया कि कुछ दिन पहले लाल किले (Red Fort) में करीब 15 कौवे मृत मिले थे। पक्षी के नमूने जांच के लिए जालंधर (Jalandhar) स्थित प्रयोगशाला में भेजे गये हैं। उन्होंने कहा कि एहतियात के तौर पर लाल किले को दर्शकों के लिए 26 जनवरी तक बंद कर दिया गया है।

वहीं शनिवार को दिल्ली चिड़ियाघर (Delhi Zoo) के एक मृत उल्लू के नमूनों की जांच में उसके भी बर्ड फ्लू (Bird Flu ) से ग्रस्त होने की पुष्टि हुई है। दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने बर्ड फ्लू के मद्देनजर शहर के बाहर से आने वाले प्रसंस्कृत और पैक्ड चिकन की बिक्री पर रोक लगा दी थी और पूर्वी दिल्ली में स्थित गाजीपुर मुर्गा मंडी को बंद करने का आदेश दिया था। बहरहाल, गुरुवार को गाजीपुर (Ghazipur) से लिए गए सभी 100 नमूनों की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद मंडी को फिर से खोल दिया गया।


अब तक देश में पांच राज्यों में पोल्ट्री पक्षियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि

देश में अभी तक पांच राज्यों में पोल्ट्री पक्षियों में बर्ड फ्लू  (Bird Flu )की पुष्टि हुई है और पक्षियों को मारने का अभियान जारी है। केंद्र ने सोमवार को ये जानकारी दी. केंद्र ने साथ ही कहा कि नौ राज्यों ने कौवों, प्रवासी पक्षियों और जंगली पक्षियों में इस बीमारी की सूचना दी है। केंद्र ने कहा कि महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, हरियाणा और छत्तीसगढ़ उन पांच राज्यों में शामिल हैं, जहां त्वरित प्रतिक्रिया टीमों (आरआरटी) द्वारा पोल्ट्री पक्षियों को मारा जा रहा है।

भारत में बर्ड फ्लू या एवियन इन्फ्लूएंजा मुख्य तौर पर प्रवासी पक्षियों द्वारा फैलता है जो सर्दियों के दौरान सितंबर से मार्च के बीच देश में आते हैं। मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘18 जनवरी तक, पांच राज्यों में पोल्ट्री पक्षियों में और नौ राज्यों में कौवों या प्रवासी या जंगली पक्षियों में एवियन इन्फ्लूएंजा की पुष्टि हुई है। ’’

मंत्रालय ने कहा कि दिल्ली में इस बीमारी की पुष्टि तीस हजारी में मृत मिले बगुले के नमूने में और लाल किले में मिले कौवे में हुई है। मंत्रालय ने कहा कि इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई के लिए एक परामर्श राज्य सरकार को जारी किया गया है।


मंत्रालय के अनुसार, देश के प्रभावित क्षेत्रों में स्थिति की निगरानी के लिए गठित केंद्रीय टीम प्रभावित स्थलों का दौरा कर रही है। मंत्रालय ने कहा कि इसने महाराष्ट्र के उन क्षेत्रों का दौरा किया है जहां यह बीमारी सामने आयी है और महामारी विज्ञान अध्ययन किया जा रहा है। केरल का दौरा समाप्त हो गया है।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)