कोलकाता रोड शो में हिंसा पर अमित शाह बोले- CRPF न होती तो मेरा बचकर निकलना मुश्किल था

कोलकाता रोड शो में हिंसा पर अमित शाह बोले- CRPF न होती तो मेरा बचकर निकलना मुश्किल था

कोलकता रोड शो में हुई हिंसा पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर फिर से हमला बोला है। अमित शाह ने आरोप लगाया कि हिंसा की खबर सुबह से थी, लेकिन कोलकाता पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। साथ ही उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस (TMC) के लोगों ने ही झूठ फैलाने के लिए ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ी।

अमित शाह ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘छह चरणों में बंगाल के सिवा कहीं हिंसा नहीं हुई। ममता जी कह रही हैं कि बीजेपी हिंसा कर रही है। ममता जी 42 सीटों पर लड़ रही हैं, हम तो देश भर में चुनाव लड़ रहे हैं। कहीं और तो हिंसा नहीं हुई। यानि साफ है टीएमसी के लोग हिंसा कर रहे हैं। लोकतंत्र की हत्या की गई।’


एक पत्रकार के जवाब में अमित शाह ने कहा कि कल वहां सीआरपीएफ नहीं होता तो मेरा वहां से बचकर निकलना मुश्किल था। साथ ही शाह ने कहा, हमारे पोस्टर बैनर फाड़े गए। हमारे कार्यकर्ताओं को उकसाया गया। हमारे कार्यकर्ता चुप रहे। दो से ढाई लाख लोग रोड शो के लिए पहुंचे थे। हमला तीन बार हुआ, पत्थर, कैरोसीन ऑयल सबका प्रयोग किया गया। सुबह से खबर थी कि कॉलेज के लड़के हिंसा कर सकते हैं। लेकिन पुलिस ने कुछ नहीं किया। टीएमसी के लोग कह रहे हैं कि बीजेपी के लोगों ने ईश्वर चंद विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी। पर हम तो कॉलेज के बाहर थे। अंदर तो टीएमसी के लोग थे। ये टीएमसी के लोगों ने ही झूठ फैलाने के लिए मूर्ति तोड़ी। बहुत सारे फुटेज हैं। कॉलेज का गेट भी नहीं टूटा है।

अमित शाह ने कहा कि यह 7:30 बजे की घटना थी। तब तो कॉलेज बंद हो जाता है। कमरा किसने खोला, कमरे की चाभी कहां से आई? टीएमसी की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। ये सारे साक्ष्य बताते हैं कि ईश्वर चंद विद्यासागर की प्रतिमा टीएमसी के लोगों ने ही तोड़ी।

इसके साथ बीजेपी अध्यक्ष ने यह भी कहा, “बंगाल में एक भी जगह हिस्ट्रीशीटर की गिरफ्तारी नहीं हुई। इससे चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर सवाल खड़ा होता है। दो दिन पहले ममता दीदी ने धमकी दी। तब चुनाव आयोग ने क्यों संज्ञान नहीं लिया? ममता दीदी आप मुझसे बड़ी हो पर चुनाव लड़ाने में मेरा अनुभव आप से ज्यादा है। बंगाल के लोगों ने तय कर लिया है कि टीएमसी की हार तय है। मैं कह रह हूं कि देश में बीजेपी को अकेले बहुमत मिलेगा। अभी खबर आई कि मेरे खिलाफ FIR हुई है। हमारे तो आपने 60 लोगों को मार दिया फिर भी हमारा संघर्ष नहीं रुका। ममता दीदी आपका समय खत्म हो गया। हम बंगाल में 23 सीटें जीत कर स्वीप करने जा रहे हैं।”


बता दें कि मंगलवार शाम को कोलकाता में कॉलेज स्ट्रीट पर बीजेपी चीफ अमित शाह के रोड शो का काफिला गुजरने के दौरान कुछ तृणमूल समर्थकों ने काले झंडे दिखाए, जिसे लेकर बीजेपी के कार्यकर्ताओं के साथ टकराव हुआ। इसके बाद पत्थरबाज़ी भी हुई और लाठी-डंडे भी चले। जिसमें कई लोग घायल हो गए थे। जिसके चलते अंतिम चरण की वोटिंग से पहले बंगाल की सियासत में उबाल आ गया है।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)