बॉलीवुड ड्रग एंगल ने सुशांत को न्याय दिलाने की बात भुला दी: गायक एरियन रोमल

  • Follow Newsd Hindi On  
सुशांत मामला : ड्रग पेडलर केशवानी को न्यायिक हिरासत में भेजा गया

डेनमार्क के गायक और उद्यमी एरियन रोमल ने दिवंगत अभिनेता सुशांत राजपूत को समर्पित एक ट्रिब्यूट सॉन्ग बनाया है। यह गाना उनकी रहस्यमयी मौत के पीछे के सच को जानने के लिए चलाए जा रहे सोशल मीडिया आंदोलन पर आधारित है। रोमल का मानना है कि कथित बॉलीवुड ड्रग लिंक ने अभिनेता की मौत की जांच से ध्यान हटा दिया है।

सुशांत के लिए न्याय मांगने ‘वी रोअर’ शीर्षक से बनाए गए इस गीत की थीम इस तरह है कि “अब आराम करो, हम यह लड़ाई जारी रखेंगे”।


हालांकि, इस गाने के लिए मुंबई के संगीतकारों के साथ सहयोग करने की योजना बनाने वाले रोमल का यह अनुभव सुखद नहीं रहा।

रोमल ने आईएएनएस को बताया, “मैं भारत के बहुत से संगीतकारों को पहचानता हूं और कई को निजी स्तर पर जानता हूं। हम मिलते रहते हैं। उनमें से कुछ लोगों को मैंने सुशांत के लिए बनाए जा रहे इस गाने के बारे में बताया और उन्हें मेरे साथ कोलेबरेट करने की पेशकश भी की। कुछ ने व्यस्त होने की बता कही और कुछ ने कहा कि वे इस मामले में नहीं पड़ना चाहते। इस बात ने मुझमें बहुत खीज पैदा की कि जब 3 महीने पहले सुशांत की मौत हुई थी तो हर कोई उन पर गाना बनाना चाहता था लेकिन जब मामला आत्महत्या से हटकर अन्य मामले में बदल गया तो सब छिप रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “मैं किसी का नाम नहीं लूंगा लेकिन 9 लोगों को मैंने ये ऑफर दिया था। इसमें 8 ऐसे हैं जो हमेशा इण्डस्ट्री को बुरा-भला कहते रहते हैं कि उनका यहां लोगों ने उपयोग किया।”


उन्होंने आगे कहा, “इस मामले में ड्रग एंगल समेत सब कुछ सामने आ रहा है लेकिन मुझे लगता है कि लोग धीरे-धीरे सुशांत को न्याय दिलाने की बात भूल रहे हैं। यह जांच सुशांत की मौत के पीछे वजह जानने के लिए की जा रही थी ना कि बॉलीवुड में ड्रग्स के बारे में जांच करने के लिए। मुझे वाकई इस बात की परवाह नहीं है कि करण जौहर ड्रग्स लेते हैं या नहीं या वे टीवी पर क्या दिखा रहे हैं, क्योंकि वह एक अलग मामला है। मुझे परवाह केवल सुशांत के बारे में सच पता करने की है।”

रोमल द्वारा निर्मित ‘वी रोअर’ को उनके साथ टिया बाजपेयी ने भी लिखा है, साथ ही इसमें अपनी आवाज भी दी है। रोमल कहते हैं, “मैं एक संगीतकार हूं और सुशांत को श्रद्धांजलि देने का सबसे अच्छा तरीका उस पर आधारित गीत बनाकर उसे श्रद्धांजलि देना है। टिया एकमात्र संगीतकार हैं जिन्होंने इस गाने को लेकर मेरे साथ कोलेबरेट करने पर तुरंत सहमति जताई थी। गाने के वीडियो में हमने सुशांत की अलग-अलग भावनाओं उनकी खुशी, क्रोध, मस्ती सब कुछ कैप्चर किया है।”

उन्होंने यह भी बताया कि यह पूरा गाना सिर्फ डेढ़ दिन के भीतर बनाया गया था। यह गाना 19 सितंबर को रिलीज हुआ और केवल 2 दिनों के अंदर इसे 1.3 लाख से अधिक लोगों ने इसे देखा और 3,400 लोगों ने लाइक किया।

–आईएएनएस

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)