ब्रिटेन : नेशनल ग्रिड ने साइबर-हमले की बात को नकारा

लंदन, 11 अगस्त (आईएएनएस)| ब्रिटिश नेशनल ग्रिड ने कहा है कि वह शुक्रवार को बड़े पैमाने पर बिजली कटौती के लिए एक साइबर हमले को जिम्मेदार नहीं मानता है। बिजली कटौती से इंग्लैंड और वेल्स के लगभग 10 लाख लोग प्रभावित हुए थे। नेशनल ग्रिड ने कहा कि इस घटना के बाद वह ‘सबक सीखेगा।’

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, नेशनल ग्रिड के संचालन निदेशक डंकन बर्ट ने शनिवार को बीबीसी को बताया कि दो पावर स्टेशनों के अविश्वसनीय रूप से डिस्कनेक्ट होने की घटना के बाद इसके सिस्टम ने अच्छा काम किया। डिस्केनक्ट होने की घटना कम ही होती है।”


उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं लगता है कि साइबर हमले या अप्रत्याशित पवन ऊर्जा उत्पादन को दोष देना चाहिए।

इस बीच, ‘ऑफिस ऑफ गैस एंड इलेक्ट्रिसिटी मार्केट्स’ नियामक ने तत्काल विस्तृत रिपोर्ट की मांग की है कि क्या गलत हुआ।

इसमें कहा गया है कि यह प्रवर्तन कार्रवाई कर सकता है, जिसमें जुमार्ना भी शामिल है। बिजली गुल होने की घटना से ट्रेन में यात्री फंसे रहे, ट्रैफिक लाइट काम करने में विफल रही और हजारों घरों में बिजली चली गई।


ऊर्जा विभाग के एक प्रवक्ता ने कहा कि नेशनल ग्रिड को ‘तत्काल समीक्षा’ करनी चाहिए कि क्या हुआ था और उसे रिपोर्ट का इंतजार है।

ट्रेन यात्रियों को शनिवार को और अधिक देरी का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि शुक्रवार को इंग्लैंड और वेल्स में बड़े पैमाने पर बिजली गुल होने से यात्रा को लेकर अराजकता का माहौल बन गया।

नेटवर्क रेल स्कॉटलैंड के अनुसार, स्कॉटलैंड और इंग्लैंड के बीच वेस्ट कोस्ट मेन लाइन कार्लिस्ले और लॉकरबी शनिवार को बंद रही।

 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)