Budget 2019: वित्त मंत्री का ऐलान- इनकम टैक्स भरने के लिए PAN कार्ड जरूरी नहीं, आधार कार्ड से भी भर सकेंगे

Budget 2019: वित्त मंत्री का ऐलान- इनकम टैक्स भरने के लिए PAN कार्ड जरूरी नहीं, आधार कार्ड से भी भर सकेंगे

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश करते हुए एक बड़ी घोषणा की। वित्त मंत्री ने कहा कि अब आधार कार्ड से भी लोग अपना इनकम टैक्स भर पाएंगे। यानी अब पैन कार्ड होना जरूरी नहीं है, आधार कार्ड से काम हो जाएगा। इसका मतलब यह हुआ कि अगर किसी व्यक्ति के पास पैन कार्ड उपलब्ध नहीं है तो वो आधार कार्ड से काम कर सकता है और आधार कार्ड उपलब्ध नहीं है तो पैन कार्ड से काम हो सकता है।

ज्ञात हो कि इनकम टैक्स रिटर्न में पैन कार्ड की जरूरत सबसे ज्यादा पड़ती है। ऐसी स्थिति में अगर किसी के पास पैन कार्ड न हो तो वो व्यक्ति अपना आधार कार्ड नंबर का इस्तेमाल कर रिटर्न फाइल कर सकता है। इसके अलावा भी अगर कहीं पैन कार्ड की आवश्यकता पड़ती है तो उसकी जगह आधार कार्ड नंबर बताकर काम चल जाएगा।


ज्यादा कमाई पर बढ़ा टैक्स

इसके अलावे मोदी सरकार ने ज्यादा कमाई करने वालों को झटका दिया है। अब 2 से 5 करोड़ रुपये सालाना कमाने वालों पर 3 फीसदी अतिरिक्त टैक्स लगेगा और साथ ही 5 करोड़ रुपये से अधिक कमाने पर 7 फीसदी अतिरिक्त टैक्स देना होगा।

मिडिल क्लास के लिए घर खरीदने पर छूट

मिडिल क्लास के लिए मोदी सरकार ने बड़ा ऐलान किया है। अब 45 लाख रुपये का घर खरीदने पर अतिरिक्त 1.5 लाख रुपये की छूट दी जाएगी। हाउसिंग लोन के ब्याज पर मिलने वाली कुल छूट अब 2 लाख से बढ़कर 3.5 लाख हो गई है। इसके अलावा 2.5 लाख रुपये तक का इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदने पर भी छूट दी जाएगी।

2022 तक हर किसी को घर

निर्मला सीतारमण ने कहा कि अभी तक 26 लाख घरों का निर्माण पूरा हो चुका है, 24 लाख को घर दिया जा चुका है। हमारा लक्ष्य 2022 तक हर किसी को घर देने का है। 95 फीसदी से अधिक शहरों को ODF घोषित किया गया है। आज एक करोड़ लोगों के फोन में स्वच्छ भारत ऐप है। देश में 1.95 करोड़ घर देने का लक्ष्य है।



केंद्रीय बजट पेश करने वाली दूसरी महिला हैं निर्मला सीतारमण, 49 साल पहले इंदिरा गांधी ने पेश किया था बजट

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)