महिंद्रा XUV 300 में क्या है अच्छा और कहां रह गई कमी, जानिये यहाँ…

असल में कितना माइलेज देती है महिन्द्रा एक्सयूवी300, जानिए यहां

महिंद्रा एक्सयूवी300 जल्द ही भारतीय कार बाजार में कदम रखने को तैयार है। इसे 14 फरवरी 2019 को लॉन्च किया जाएगा। हमे हाल ही एक्सयूवी300 को चलने का मौका मिला और कार से जुड़ी कई चीज़ों ने हमें काफी प्रभावित किया। हालांकि कुछ बातों की कमी भी हमे महसूस हुई है। तो आइए जानें महिंद्रा एक्सयूवी300 में क्या है अच्छा और कहां रह गई कमी: –

महिंद्रा एक्सयूवी300 में पसंद आई ये चीजें: –

  • सेफ्टी: एक्सयूवी300 अपने सेगमेंट में सबसे अच्छे सेफ्टी फीचर लिए हुए है। इनमें 7-एयरबैग, इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी प्रोग्राम (ईएसपी), हिल होल्ड असिस्ट, आईएसओफिक्स चाइल्ड सीट एंकर, एंटीलॉक ब्रैकिंग सिस्टम (एबीएस), इलेक्ट्रॉनिक ब्रेक डिस्ट्रीब्यूशन (ईबीडी), टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम, चारों व्हील पर डिस्क ब्रेक, रियर पार्किंग कैमरा, रियर पार्किंग सेंसर और फ्रंट पार्किंग सेंसर जैसे फीचर शामिल हैं।
  • फीचर: महिंद्रा एक्सयूवी300 में दर्जनों फीचर दिए गए हैं। इसमें सेगमेंट-फर्स्ट फीचर के तौर पर ड्यूल ज़ोन क्लाइमेट कंट्रोल, हीटेड ओआरवीएम, मल्टीपल स्टीयरिंग मोड, टायर डायरेक्शन मॉनिटर सिस्टम और फ्रंट पार्किंग सेंसर दिए गए हैं। इसके अलावा कार के टॉप वेरिएंट में सनरूफ, प्रोजेक्टर हैडलैंप, 7-इंच का टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम और 17-इंच के डायमंड-कट अलॉय व्हील के साथ और भी कई फीचर मिलेंगे।
  • पावरफुल इंजन: एक्सयूवी300 में 1.2-लीटर टर्बो पेट्रोल और 1.5-लीटर टर्बो डीज़ल इंजन दिया जाएगा। यह इंजन क्रमशः 110पीएस/200एनएम और 115पीएस/300एनएम की पावर और टॉर्क जनरेट करते हैं। एक्सयूवी300 का डीज़ल इंजन अपने सेगमेंट में सबसे ज्यादा पावरफुल है। इसका पेट्रोल और डीज़ल दोनों इंजन सेगमेंट में सबसे ज्यादा टॉर्क भी जनरेट करते है।   
  • राइड क्वालिटी: एक्सयूवी300 की राइड क्वालिटी शानदार है। यह तीखे रास्तों और खड्डों को आसानी से पार कर जाती है। ट्रिपल डिजिट की स्पीड पर भी यह बैलेंस रहती है।

महिंद्रा एक्सयूवी300 में बेहतर हो सकती थी ये चीजें: –


  • स्पेस: सेगमेंट में सबसे ज्यादा व्हीलाबेस होने के बावजूद भी इसके रियर में स्पेस की कमी महसूस होती है। कार का बूट स्पेस भी बहुत ज्यादा नहीं है। साथ ही फ्रंट पैसेंजर फूटवेल भी सकड़ा महसूस होता है।
  • ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन की कमी: लॉन्च के समय एक्सयूवी300 ऑटोमैटिक गियरबॉक्स विकल्प में उपलब्ध नहीं होगी। इसके अलावा, कार के डीज़ल इंजन में 1500आरपीएम से नीचे टॉर्क की कमी महसूस होती है।
  • सेंटर कंसोल की डिज़ाइन: महिंद्रा एक्सयूवी300 सैंग्यॉन्ग टिवोली पर बेस्ड है। इसकी झलक कार के इंटीरियर डिज़ाइन में भी देखने को मिलती है। इसका डैशबोर्ड डिज़ाइन टिवोली के जैसा ही है। टिवोली को 2015 में ग्लोबल मार्केट में लॉन्च किया गया था, ऐसे में इसका डैशबोर्ड डिज़ाइन अब के हिसाब से पुराना लगता है। इन दिनों फ्लोटिंग स्क्रीनटच इंफोटेनमेंट सिस्टम और डैशबोर्ड पर कम बटन दिए जाने का चलन है, जिसकी एक्सयूवी300 में कमी है।
  • फिट और फिनिश: एक्सयूवी300 का केबिन प्रीमियम लगता है। इसमें उपयोग किए गए मटेरियल की क्वालिटी अच्छी है। लेकिन कुछ जगहों पर इसकी क्वालिटी, फिटिंग और फिनिशिंग अच्छी नहीं लगती है।

यह भी पढ़ें: मुकाबले में मौजूद कारों से कितनी बेहतर है महिन्द्रा एक्सयूवी300, जानिये यहां

जनवरी 2019 में सबसे ज्यादा बिकी विटारा ब्रेज़ा, जानें कैसा रहा बाकी कारों का हाल


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)