दिल्ली में वायु गुणवत्ता दिवाली की देर रात 3 बजे सबसे खराब रही

नई दिल्ली, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)| दिल्ली में पटाखे छोड़े जाने व अन्य कारकों के कारण दिवाली की देर रात तीन बजे हवा की गुणवत्ता सबसे खराब रही। सोमवार शाम तक हालांकि इसमें धीरे-धीरे सुधार देखने को मिला। अमेरिकी दूतावास द्वारा संकलित आंकड़ों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार शाम को वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) पीएम 2.5 कुल 255 अंकों के साथ ‘काफी अस्वस्थ’ श्रेणी में पाया गया।

अमेरिकी दूतावास की एडवाइजरी के अनुसार, 201 और 300 के बीच रहने वाला एक्यूआई एक स्वास्थ्य चेतावनी है, जिसका मतलब है कि इसकी वजह से हर किसी के स्वास्थ्य पर काफी गंभीर असर पड़ सकता है।


दिवाली की रात दिल्ली और आसपास के इलाकों में पटाखे चलने के बाद एक्यूआई का स्तर बढ़ना शुरू हो गया था, मगर सोमवार शाम तक इसमें धीरे-धीरे सुधार देखने को मिला।

दिल्ली की वायु गुणवत्ता रात 11 बजे के बाद खतरनाक श्रेणी में प्रवेश कर गई। रविवार की रात को एक्यूआई 359 के स्तर को छू गया। यह सुबह तीन बजे 447 के शिखर को छू गया। इसके बाद इसका स्तर नीचे आया लेकिन फिर भी सोमवार की शाम को वायु की गुणवत्ता ‘बहुत अस्वस्थ’ श्रेणी में थी।

खतरनाक स्तर 300 और 500 की गिनती के बीच है।


अमेरिकी दूतावास की सलाह के अनुसार यह खतरनाक स्तर हृदय या फेफड़ों की बीमारी के गंभीरता के साथ ही अन्य कई खतरों का कारण बन सकता है।

इसके अलावा यह कार्डियोपल्मोनरी बीमारी वाले व्यक्तियों में समय से पहले मृत्यु और सामान्य आबादी के साथ बुजुर्गो में सांस से संबंधित गंभीर जोखिम होने का कारण बनता है।

 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)

You May Like