दलाई लामा ने केजरीवाल के खुशी पाठ्यक्रम पहल को सराहा

धर्मशाला, 12 फरवरी (आईएएनएस)| तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा ने बुधवार को दिल्ली विधानसभा चुनाव जीतने पर आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को बधाई देते हुए कहा कि स्कूली पाठ्यक्रम में मन के आंतरिक विकास के पहलुओं को शामिल करने की उनकी पहल सराहनीय है। नोबल शांति पुरस्कार विजेता ने भारत के लोकतंत्र की प्रशंसा करते हुए कहा, “दिल्ली की जनता को आपके समर्थ नेतृत्व से आगे भी लाभ मिलता रहेगा।”

उन्होंने कहा, “जैसा कि मैंने आपसे दो जुलाई, 2018 को दिल्ली के सरकारी स्कूलों के पाठ्यक्रमों में खुशी को शामिल किए जाने पर कहा था, मैं उन्नत मूल्यों के साथ व्यक्तियों को बेहतर और पहले से खुश बनाने के आपके और आपकी सरकार के प्रयासों का गहरा प्रशंसक हूं।”


लामा ने एक बयान में कहा, “इन कदमों से बच्चों की संपूर्ण शिक्षा पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा और जीवन स्तर सुधारने के उनके सपने को पूरा करने में सहायता मिलेगी।”

उन्होंने कहा, “मूलभूत मानवीय मूल्यों और अंतरधार्मिक सौहार्द्र को बढ़ावा देने के लिए मैं मन और भावनाओं के कार्य करने की प्राचीन भारतीय समझ को पुनर्जीवित करने के लिए प्रतिबद्ध हूं। मैं इसलिए स्कूली पाठ्यक्रम में मन के आंतरिक विकास के पहलुओं को शामिल करने की प्रशंसा करता हूं।”

दलाई लामा 1959 में अपने घर तिब्बत से भागकर भारत में शरण लिए हुए हैं। दलाई लामा अब हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला नगर में रहते हैं।


 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)