Shardiya Navratri 2019 : 29 सितंबर से शुरू होंगे नवरात्र, जानें कलश स्थापना, दुर्गा अष्टमी और दशहरा की तारीख

Shardiya Navratri 2019 : 29 सितंबर से शुरू होंगे नवरात्र, जानें कलश स्थापना, दुर्गा अष्टमी और दशहरा की तारीख

Shardiya Navratri 2019: आदिशक्ति माता दुर्गा की आराधना को समर्पित शारदीय नवरात्रि इस वर्ष 29 सितंबर दिन रविवार से प्रारंभ हो रही है। हिंदू धर्म में नवरात्र का बहुत बड़ा महत्व बताया गया है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन माता कैलाश पर्वत से धरती पर अपने मायके आती हैं। मां का धरती पर आगमन कई कारणों से बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है।

इस बार शारदीय नवरात्रि 9 दिन की है। पहले दिन यानी 29 सितंबर को विधि विधान से घट या कलश स्थापना होगा। उसके बाद से नवरात्रि के व्रत प्रारंभ होंगे। इन 9 दिनों में माता के 9 स्वरुपों की पूजा-अर्चना की जाएगी। इस बार दशहरा या विजयादशमी 08 अक्टूबर को है। नवरात्रों में माता के भक्त उन्हें प्रसन्न करने के लिए उनके 9 अलग-अलग स्वरूपों की पूजा-अर्चना करने के साथ उपवास भी रखते हैं। नवरात्र के पहले दिन घर में कलश स्थापना कि जाती है।


Diwali 2019: कब है दिवाली? जानें इसके पांच दिनों का महत्व और इतिहास

नवरात्रि के व्रत और पूजा के लिए विशेष तैयारियां करनी होती हैं। ऐसे में आइए जानते हैं कि किस तारीख को माता दुर्गा के किस स्वरुप की पूजा की जाएगी।

Shardiya Navratri 2019 : महत्वपूर्ण तारीखें

1. 29 सितंबर- प्रतिपदा – पहला दिन, घट या कलश स्थापना। इस दिन माता दुर्गा के शैलपुत्री स्वरूप की पूजा होगी।

2. 30 सितंबर- द्वितीया – दूसरा दिन। इस दिन माता के ब्रह्मचारिणी स्वरूप की पूजा की जाती है।


3. 1 अक्टूबर- तृतीया – तीसरा दिन। इस दिन दुर्गा जी के चंद्रघंटा स्वरूप की पूजा की जाएगी।

4. 2 अक्टूबर- चतुर्थी – चौथा दिन। माता दुर्गा के कुष्मांडा स्वरुप की पूजा-अर्चना होगी।

5. 3 अक्टूबर- पंचमी – पांचवां दिन- इस दिन मां भगवती के स्कंदमाता स्वरूप की पूजा की जाती है।

6. 4 अक्टूबर- षष्ठी- छठा दिन- इस दिन माता दुर्गा के कात्यायनी स्वरूप की पूजा होती है।

7. 5 अक्टूबर- सप्तमी- सातवां दिन- इस दिन माता दुर्गा के कालरात्रि स्वरूप की आराधना की जाती है।

8. 6 अक्टूबर- अष्टमी – आठवां दिन- दुर्गा अष्टमी, नवमी पूजन। इस दिन माता दुर्गा के महागौरी स्वरूप की पूजा अर्चना की जाती है।

9. 7 अक्टूबर- नवमी – नौवां दिन- नवमी हवन, नवरात्रि पारण।

10. 8 अक्टूबर- दशमी- जिन लोगों ने माता दुर्गा की प्रतिमाओं की स्थापना की होगी, वे विधि विधान से माता का विसर्जन करेंगे। इस दिन विजयादशमी या दशहरा मनाया जाएगा।


‘हरतालिका तीज’ के साथ हो रही है सितंबर महीने की शुरुआत, मुहर्रम और गणेश चतुर्थी समेत पड़ेंगे ये महत्वपूर्ण व्रत-त्योहार

Durga Puja 2019: कब है दुर्गा पूजा? जानें क्यों कहा जाता है इसे ‘शक्ति का पर्व’

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)