Eid-ul-Fitr 2020: देशभर में कल मनेगी ईद-उल-फितर, लॉकडाउन में घर पर कैसे पढ़ें ईद की नमाज़?

ईद (Eid 2020) का चांद दिख गया है। इसके बाद पूरे भारत में अब सोमवार को ईद-उल-फितर (Eid ul Fitr) का त्योहार मनाया जाएगा। दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने रविवार देर शाम को कहा कि ईद के चांद का दीदार हो गया है, पूरे देश में 25 मई को ईद-उल-फित्र (Eid Al Fitr) मनाई जाएगी। बता दें कि ईद-उल-फितर का चांद दिखाई देने के साथ ही रमज़ान का महीना खत्म हो जाता है और शव्वाल का महीना शुरू होने के साथ ईद मनाई जाती है।

ईद की नमाज़ घर पर कैसे पढ़ें ?

इस बार ईद में स्थितियां असाधारण हैं। कोरोना वायरस के प्रकोप की वजह से लॉकडाउन चल रहा है और ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए ईद की नमाज़ ईदगाह की बजाय घर में ही पढ़ना पड़ेगा। ईद की नमाज़ से जुड़ी कुछ अहम बातें सब के लिए जानना ज़रूरी हैं। हम आपको ईद की नमाज़ का तरीक़ा भी (Eid Ki Namaz Ka Tareeqa) बता रहे हैं।


ईद-उल-फित्र की नमाज़ के बारे में कुछ ज़रूरी बातें

1. ईद की नमाज़ में न अज़ान होती है और न इक़ामत कही जाती है।

2. लेकिन इस नमाज़ में 6 तक्बीरें ज्यादा होती हैं। 3 तक्बीरें पहली रकात में सना पढने के बाद, और 3 तक्बीरें दूसरी रकात में रुकू में जाने पहले।

3. इस नमाज़ में ख़ुत्बा नमाज़ के बाद होता है।


ईद की नमाज़ का तरीक़ा (Eid Ki Namaz Ka Tareeqa)

इन स्टेप्स में जानिये ईद की नमाज़ का सही तरीक़ा

1. पहली रकात

ईद की नमाज़ की नियत ( Eid Ki Namaz Ki Niyat Kaise Karen )

नियत करता हूँ मैं दो रकात नमाज़ वाजिब, मय 6 ज़ायेद तकबीरों के वास्ते अल्लाहताला के, रुख मेरा काबे शरीफ़ की तरफ़ “अल्लाहु अकबर” कहते हुए हाथ बाँध लें।

इसके बाद सना पढ़ें : सुब हानकल लाहुम्मा व बिहम्दिका व तबा रकस्मुका व तआला जददुका वला इलाहा गैरुक

सना पढने के बाद तीन तक्बीरें कहनी है: अल्लाहु अकबर, अल्लाहु अकबर, अल्लाहु अकबर

दो बार अल्लाहु अकबर कह कर कानों तक हाथ उठायें और छोड़ दें।

तीसरी बार में ‘अल्लाहु अकबर’ कह कर कानों तक हाथ उठायें और फिर बाँध लें।

फिर अलहम्दु शरीफ़ (सूरह फ़ातिहा) और कोई सूरह पढ़ कर रुकू में जाएँ और सजदा करें इसी तरह ये रकात आम नमाज़ों की तरह पूरी करें।

2. दूसरी रकात

अब दूसरी रकात में जब आप खड़े होंगे तो अलहम्दु शरीफ़ और कोई सूरह पढ़ने के बाद फिर चार तक्बीरें कहनी हैं।

तीन तकबीरों में हाथ उठा कर छोड़ देना है और चौथी तकबीर में बगैर हाथ उठाये रुकू में चले जाना है। इसके बाद फिर आम नमाज़ों की तरह इस नमाज़ को पूरी करना है। उसके बाद दुआ मांगनी है।

3. नमाज़ के बाद दो ख़ुत्बे

नमाज़ पूरी करके दुआ मांगने के बाद खड़े होकर पहला ख़ुत्बा दें, फिर 5 से 6 सेकंड बैठ जाएँ, फिर दूसरा ख़ुत्बा दें, अब आपकी नमाज़ मुकम्मल हो गयी।

ईद की नमाज़ का वक़्त (Eid Namaz Timing) कब शुरू होता है ?

ईद-उल-फित्र की नमाज़ का वक़्त सूरज निकलने के करीब 20 मिनट बाद शुरू हो जाता है।

ईद-उल-फित्र की नमाज़ फ़र्ज़ या वाजिब है?

ईद-उल-फित्र की नमाज़ फ़र्ज़ नहीं बल्कि वाजिब है।

ईद की नमाज़ (Eid ki Namaz) के लिए कितने लोगों का होना ज़रूरी है?

ईद की नमाज़ के लिए कम से कम चार बालिग़ मर्दों का होना ज़रूरी है, ये नहीं कि दो मर्द हैं और दो औरतें मिलकर चार हो गए तो नमाज़ हो जाएगी। ऐसा नहीं है, बल्कि 4 मर्दों का होना ज़रूरी है। इसके बाद अगर औरतें चाहें तो नमाज़ में शरीक हो सकती हैं।

अगर घर में कोई अकेला हो या दो ही लोग हों तो क्या करें?

उलेमा ने इसका एक हल बताया है कि लॉक डाउन के चलते अगर नमाज़ पढ़ने की कोई सूरत ना बन पा रही हो तो चाश्त की नमाज़ पढ़ ले।

चाश्त की नमाज़ कितनी रकात पढ़े ?

चार रकात तक दो -दो रकात कर के चाश्त की नमाज़ पढ़ लें।

ईद-उल-फित्र की नमाज़ में कितनी रकातें होती हैं ?

इस नमाज़ में दो रकातें होती हैं।

क्या औरतें ईद की नमाज़ पढ़ेंगी ?

ईद की नमाज़ औरतों पर वाजिब नहीं है, लेकिन घर में जमात हो रही हो तो अगर वो चाहें तो जमात में शामिल हो सकती हैं।

गौरतलब है कि कोरोना महामारी को देखते हुए सभी धार्मिक स्थल बंद हैं। इसलिए मस्जिद में नमाज़ पढ़ने की इजाजत नहीं है। एक तरफ जहां प्रशासन मुस्तैद है तो वहीं, मौलाना और उलेमाओं की तरफ से घर में ही ईद की नमाज़ पढ़ने की अपील की गई है। इसके साथ ही कोरोना से महफूज रहने की दुआ करने की अपील की गई है। इसके अलावा ईद पर गले न मिलने और सोशल मीडिया के माध्यम से मुबारकबाद के लिए भी कहा गया है। घर में परिवार के साथ ईद की खुशियां मनाने की अपील की गई है।


Eid Mubarak 2020: इन खूबसूरत मैसेज, स्टेटस और शायरी के साथ दें ईद की दिली मुबारकबाद

Eid Mehndi Designs 2020: ईद के मौके पर हाथों में जरूर रचाएं मेहंदी, ये रहे कुछ आसान और लेटेस्ट डिजाइन

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)