धनबाद लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र, झारखंड: वर्तमान सांसद, उम्मीदवार, मतदान तिथि और चुनाव परिणाम

धनबाद लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र, झारखंड: वर्तमान सांसद, उम्मीदवार, मतदान तिथि और चुनाव परिणाम

झारखंड का एक महत्‍वपूर्ण लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र धनबाद एक बार फिर नया सांसद चुनने को तैयार है। 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के पशुपति नाथ सिंह ने कांग्रेस के अजय कुमार दूबे को करीब 2.92 लाख वोटों से पराजित किया था। मासस उम्मीदवार तीसरे स्थान पर रहे थे। इस बार बीजेपी ने मौजूदा सांसद पशुपति नाथ सिंह को ही टिकट दिया है। वहीं गठबंधन खेमे से कांग्रेस ने 1983 क्रिकेट विश्वकप विजेता भारतीय टीम के खिलाड़ी रहे कीर्ति झा आजाद को टिकट देकर इस सीट को राष्ट्रीय स्तर पर चर्चे में ला दिया है। वहीं इस सीट पर सिंह मेंसन से सिद्धार्थ गौतम की निर्दलीय उम्मीदवारी भी दोनों दलों के लिए चुनौती बन गई है।

धनबाद लोकसभा सीट का इतिहास

धनबाद लोकसभा सीट से 1951 और 1957 का चुनाव कांग्रेस के पीसी बोस ने जीता। 1962 में इस सीट से कांग्रेस पीआर चक्रवर्ती जीतने में कामयाब हुए। 1967 के चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी रानी ललिता राज्य लक्ष्मी जीतीं। 1971 में फिर इस सीट पर कांग्रेस ने वापसी की और उसके टिकट पर राम नारायण शर्मा जीते।


1977 के कांग्रेस विरोधी लहर के बाद यहां वामपंथी मार्क्सवादी समन्वय समिति (मासस) का दबदबा रहा। मासस के केके राय यहां से 1977, 1980 और 1989 में सांसद चुने गये। इस बीच 1984 में इंदिरा गांधी की हत्या के बाद उपजी सहानुभूति लहर में यहां से कांग्रेस के शंकर दयाल सिंह चुनाव जीते थे। उसके बाद से धनबाद में भाजपा का जलवा रहा है। 1991, 1996 और 1999 में यहां से भाजपा की रीता वर्मा ने लगातार चार बार जीत दर्ज की थी। कांग्रेस के चंद्रशेखर दूबे उर्फ ददई दूबे ने 2004 में भाजपा से यह सीट छीनी थी। लेकिन 2009 में पीएन सिंह ने इस सीट पर फिर से भाजपा को काबिज करा दिया। तब से यहां भाजपा का कब्जा बरकरार है।

2014 का लोकसभा चुनाव

2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी लहर में इस सीट पर भाजपा के पशुपति नाथ सिंह दोबारा जीते। उन्होंने कांग्रेस के अजय कुमार दूबे को करीब 2.92 लाख वोटों से हराया। पशुपति नाथ सिंह को 5,43,951 लाख वोट मिले थे, जबकि अजय कुमार दूबे को 2,50,537 लाख। तीसरे नंबर पर मार्क्सवादी समन्वय समिति के आनंद महतो (1.10 लाख) और चौथे नंबर पर झारखंड विकास मोर्चा के समरेस सिंह (90 हजार) रहे थे।

धनबाद संसदीय सीट का समीकरण

इस संसदीय क्षेत्र के तहत 6 विधानसभा सीटें (बोकारो, सिन्दरी, निरसा, धनबाद, झरिया, चन्दनकियारी) आती हैं। इसमें चंदनकियारी सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है। 2014 के विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने चार सीटें (बोकारो, सिन्दरी, धनबाद, झरिया), मार्क्सिस्‍ट कोऑर्डिनेशन ने एक सीट (निरसा) और झारखंड विकास मोर्चा ने एक सीट (चन्दनकियारी) पर जीत हासिल की थी।


इस सीट पर वोटरों की संख्या 18.89 लाख है, जिनमें 10.32 लाख पुरुष वोटर और 8.57 लाख महिला वोटर शामिल हैं। 2014 के चुनाव में सीट पर करीब 61 फीसदी मतदान हुआ था। इस सीट पर शहरी मतदाताओं का दबदबा है। यहां करीब 62 फीसदी शहरी मतदाता और 38 फीसदी ग्रामीण मतदाता है। इस सीट पर अनुसूचित जाति की तादात 16 फीसदी और अनुसूचित जनजाति की तादात 8 फीसदी है।

निवर्तमान सांसद: पशुपति नाथ सिंह

लोकसभा चुनाव 2014

पशुपति नाथ सिंह, भाजपा – 5,43,951
अजय कुमार दूबे, कांग्रेस – 2,50,537
आनंद महतो, मार्क्सवादी समन्वय समिति  – 1,10.185

समरेश सिंह, झाविमो – 90,926

2019 लोकसभा चुनाव के लिए प्रमुख उम्मीदवार

  • पशुपति नाथ सिंह, भाजपा
  • कीर्ति झा आजाद, कांग्रेस
  • सिद्धार्थ गौतम ,सिंह मेंसन, निर्दलीय

छठे चरण के चुनाव लिए महत्वपूर्ण तिथियां

अधिसूचना  जारी 10 अप्रैल
नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 16 अप्रैल
नामांकन पत्र की जांच 23 अप्रैल
नामांकन वापसी की अंतिम तिथि 24 अप्रैल
मतदान की तारीख 12 मई
मतगणना की तारीख 23 मई

 

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)