जहानाबाद लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र, बिहार: वर्तमान सांसद, उम्मीदवार, मतदान तिथि और चुनाव परिणाम

जहानाबाद लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र, बिहार: वर्तमान सांसद, उम्मीदवार, मतदान तिथि और चुनाव परिणाम

बिहार का जहानाबाद लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र एक बार फिर से नया सांसद चुनने को तैयार है। 2014 के लोकसभा चुनाव में रालोसपा के अरुण कुमार ने राजद के सुरेंद्र प्रसाद यादव को मात दी थी। जदयू प्रत्याशी अनिल शर्मा तीसरे स्थान पर रहे थे। इस बार मुकाबले की तस्वीर बदल गई है। वर्तमान सांसद अरुण कुमार की पार्टी रालोसपा महागठबंधन का हिस्सा बन गई और रालोसपा भी दो गुटों में बंट गई। एनडीए में यह सीट जदयू के खाते में गई है। जदयू से चंद्रेश्वर चंद्रवंशी यहां से चुनाव लड़ रहे हैं। राजद ने सुरेंद्र प्रसाद यादव को टिकट दिया है, वहीं वर्तमान सांसद अरुण कुमार अपनी पार्टी रासपा से चुनाव मैदान में उतरकर मुकाबले को त्रिकोणीय बना दिया है।

मुगलकाल के दौरान इस क्षेत्र में जहांआरा नाम से मंडी की स्थापना की गई, जिसके नाम पर इस क्षेत्र का नाम जहानाबाद पड़ गया। जहानाबाद, बिहार का एक नक्सल प्रभावित जिला है। 1986 में इसे गया जिले से अलग करके नया जिला बनाया गया। राजनीतिक दृष्टि से जहानाबाद सीट काफी महत्वपूर्ण मानी जाती है।


जहानाबाद लोकसभा सीट का इतिहास

1952 में जहानाबाद लोकसभा सीट पर पहली बार चुनाव हुए थे। सोशलिस्ट पार्टी के बिगेश्वर मिश्रा यहां के सांसद बने। उसके बाद 1957 से लेकर 1962 तक कांग्रेस की सत्यभामा देवी इस सीट से सांसद चुनी गईं। 1967 से 1971 तक भाकपा के चंद्रशेखर सांसद निर्वाचित हुए थे। 1977 में जनता पार्टी के हरिलाल प्रसाद सिन्हा इस सीट से चुनकर लोकसभा पहुंचे। 1980 में यहां से कांग्रेस के महेंद्र प्रसाद चुने गए थे।

1984 के चुनाव में जब इंदिरा गांधी की हत्या की वजह से पूरे देश में कांग्रेस की लहर चल रही थी उस चुनाव में जहानाबाद सीट पर भाकपा के रामाश्रय प्रसाद सिंह चुनाव जीते थे। रामाश्रय सिंह ने इस क्षेत्र का लंबे समय तक प्रतिनिधित्व किया। बेहद जमीनी तौर पर लोगों से जुड़ने के कारण लोगों ने उन्हें कई बार लोकसभा भेजा। रामाश्रय सिंह इस सीट पर लगातार 1984 से 1996 तक चार बार चुनाव जीते थे।

1998 में इस सीट को राजद ने सीपीआई से छीन लिया और सुरेंद्र यादव यहां से चुनकर संसद पहुंचे। 1999 में इस सीट पर जदयू का कब्जा हो गया और अरुण कुमार यहां से निर्वाचित हुए। 2004 में राजद के गणेश प्रसाद सिंह तथा 2009 में जदयू के डॉ. जगदीश शर्मा इस सीट से जीत दर्ज किए थे। मौजूदा समय में अरुण कुमार यहां के सांसद हैं।


2014 लोकसभा चुनाव

2014 के लोकसभा चुनाव में जहानाबाद लोकसभा सीट से राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अरुण कुमार विजयी हुए थे। अरुण कुमार को 3,22,647 वोट मिले थे। दूसरे नंबर पर राष्ट्रीय जनता दल के सुरेंद्र प्रसाद यादव थे, जिन्हें 2,80,307 वोट मिले थे। तीसरे नंबर जदयू के अनिल कुमार शर्मा थे, जिन्हें 1,00,851 वोट मिले थे।

जहनाबाद संसदीय सीट का समीकरण

इस लोकसभा सीट के अंतर्गत छह विधानसभा सीटें आती हैं, जिसमें जहानाबाद, मखदूमपुर, घोसी, अरवल, कुर्था और अतरी शामिल हैं। 2015 के विधानसभा चुनाव में राजद ने 4 और जदयू ने 2 सीटों पर जीत हासिल की थी।

2014 के आंकड़ों के मुताबिक, जहानाबाद लोकसभा सीट पर कुल 14,23,246 मतदाता हैं, जिसमें 751585 पुरुष और 6,71,629 महिला मतदाता है। 2014 में यहां कुल 8,11,516 वोट पड़े थे। कुल मतदान 57 प्रतिशत रहा था। एक अनुमान के मुताबिक संसदीय क्षेत्र में साढे तीन लाख यादव, पौने तीन लाख भूमिहार, एक लाख मुसलमान, करीब पांच लाख अतिपिछड़ी जातियां और जनगणना के अनुसार 19 फीसदी अनुसूचित जाति के लोग हैं। जहानाबाद बिहार के उन जिलों में गिना जाता है जहां 90 के दशक में जातीय हिंसा का बड़ा प्रभाव था।

निवर्तमान सांसद: अरुण कुमार

लोकसभा चुनाव 2014 के नतीजे

अरुण कुमार, रालोसपा(NDA) – 3,22,647
सुरेंद्र प्रसाद यादव, राजद – 2,80,307
अनिल कुमार शर्मा , जदयू –  1,00,851

2019 लोकसभा चुनाव के लिए प्रमुख उम्मीदवार

  • चंद्रेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी, जदयू/ NDA
  • सुरेंद्र प्रसाद यादव, राजद/ महागठबंधन
  • अरुण कुमार, रासपा

सातवें चरण के चुनाव लिए महत्वपूर्ण तिथियां

अधिसूचना  जारी 22 अप्रैल
नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 29 अप्रैल
नामांकन पत्र की जांच 30 अप्रैल
नामांकन वापसी की अंतिम तिथि 2 मई
मतदान की तारीख 19 मई
मतगणना की तारीख 23 मई

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)