UP: सहारनपुर लोकसभा सीट: त्रिकोणीय मुकाबले में किसका पलड़ा होगा भारी, कितना आसान होगा भाजपा के लिए सीट बचाना

सहारनपुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र, उत्तर प्रदेश: वर्तमान सांसद, उम्मीदवार, मतदान तिथि और चुनाव परिणाम

लोकसभा चुनाव के पहले चरण के तहत उत्तर प्रदेश की 8 लोकसभा सीटों पर 11 अप्रैल को वोट डाले गए। इन 8 सीटों में एक सीट सहारनपुर की है, जहां मतदान सम्पन्न हुए।

उत्तर प्रदेश के प्रथम चरण के चुनाव के दौरान 63.69 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने-अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। सहारनपुर संसदीय क्षेत्र में 70.68 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।


दिल्ली से 200 किलोमीटर की दूरी पर स्थित सहारनपुर उत्तर प्रदेश का एक शहर है। सहारनपुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र भी है और एक बार फिर से नया सांसद चुनने के लिए तैयार है। 2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार राघव लखनपाल ने सहारनपुर से जीत दर्ज की थी। सहारनपुर लोकसभा सीट का चुनाव दिलचस्प होने जा रहा है, क्योंकि यहां पर सपा-बसपा गठबंधन की तरफ से हाजी फजलुर्रहमान और कांग्रेस की तरफ से इमरान मसूद को प्रत्याशी बनाया है। भाजपा ने मौजूदा सांसद राघव लखनपाल पर फिर से भरोसा जताया है।

आपको बता दें कि सहारनपुर की स्थापना 1340 ई के आसपास हुई और इसका नाम एक राजा सहारन पीर के नाम पर पड़ा। सहारनपुर की काष्ठ कला और देवबन्द दारूल उलूम विश्वपटल पर सहारनपुर को अलग पहचान दिलाते हैं। सहारनपुर में प्राचीन शाकुम्भरी देवी सिद्धपीठ मंदिर, इस्लामिक शिक्षा का केन्द्र देवबन्द दारुल उलूम, देवबंद का मां बाला सुंदरी मंदिर, नगर में भूतेश्वर महादेव मंदिर, कंपनी बाग इसके प्रमुख पर्यटन स्थल हैं। लकड़ी पर नक्काशी करने का काम सहारनपुर में काफी मशहूर है। लखनऊ से इसकी दूरी 702.6 किलोमीटर है।

सहारनपुर में पहले चरण के अंतर्गत 11 अप्रैल को मतदान हुए। यहां 70.68 प्रतिशत मतदान हुआ।


सहारनपुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में पांच विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं – बेहट, सहारनपुर नगर, सहारनपुर देहात, देवबंद और रामपुर मनिहारान। इस लोकसभा क्षेत्र में 17,22,580 मतदाता हैं। इसमें करीब छह लाख मुस्लिम मतदाता हैं तो अनुसूचित जाति के तीन लाख वोटर हैं। इसके अलावा गुर्जर, पंजाबी, वैश्य, जाट, सैनी, कश्यप सहित अन्य जातियों को मिलाकर करीब आठ लाख वोटर इस सीट में हैं।

2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को 4,72,999 वोट हासिल हुए थे। परंपरागत वोटरों में पंजाबी, वैश्य सहित अन्य जातियों की हिस्सेदारी भाजपा की ताकत है। केंद्र और प्रदेश की योजनाओं के साथ ही एयर स्ट्राइक के बाद बने माहौल को साधने का प्रयास होगा। वहीं, कांग्रेस प्रत्याशी इमरान मसूद कड़ी टक्कर देते हुए 4,07,909 वोट लेकर दूसरे नंबर पर रहे। इस चुनाव में इमरान मसूद के चचेरे भाई शाजान मसूद समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी थे और उन्हें 52,765 वोट मिले थे। वहीं, बसपा उम्मीदवार जगदीश सिंह राणा को 2,35,033 वोट मिले। इस बार गठबंधन प्रत्याशी की ताकत अनुसूचित जाति, मुस्लिम और जाट बिरादरी के मतदाता हैं।

सहारनपुर में मुकाबला भाजपा, कांग्रेस और गठबंधन प्रत्याशी के बीच त्रिकोणीय होगा। जीत को लेकर सभी के अपने दावे हैं। अब किसका दावा और किसकी रणनीति सटीक रही, यह फैसला 23 मई को चुनाव परिणाम के बाद स्पष्ट हो जाएगा।

निवर्तमान सांसद: राघव लखनपाल

लोकसभा चुनाव 2014

राघव लखनपाल, भाजपा – 4,72,999
इमरान मसूद, कांग्रेस – 407,909
जगदीश सिंह राणा, बसपा – 235,033
शाजान मसूद, सपा – 52,765

2019 लोकसभा चुनाव के लिए प्रमुख उम्मीदवार

  • राघव लखनपाल, भाजपा
  • इमरान मसूद, कांग्रेस
  • हाजी फजलुर्रहमान, बसपा

पहले चरण के चुनाव लिए महत्वपूर्ण तिथियां

अधिसूचना  जारी 18 मार्च
नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 25 मार्च
नामांकन पत्र की जांच 26 मार्च
नामांकन वापसी की अंतिम तिथि 28 मार्च
मतदान की तारीख 11 अप्रैल
मतगणना की तारीख 23 मई

देखें, यूपी में बीजेपी, कांग्रेस और सपा-बसपा गठबंंधन के उम्मीदवारों की पूरी लिस्ट

लोकसभा चुनाव 2019: पहले चरण के लिए 11 अप्रैल को इन सीटों पर होगी वोटिंग, देखें राज्यवार सूची

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)