तबादले के बाद वित्त सचिव गर्ग ने मांगा जल्दी रिटायरमेंट, पढ़ें ब्यूरोक्रेसी में हुई बड़ी फेरबदल के बारे में

तबादले के बाद वित्त सचिव गर्ग ने मांगा जल्दी रिटायरमेंट, पढ़ें ब्यूरोक्रेसी में हुई बड़ी फेरबदल के बारे में

मोदी सरकार ने ब्यूरोक्रेसी (नौकरशाही) में बड़ा फेरबदल किया है। सरकार ने मौजूदा वित्त सचिव सुभाष चंद्र गर्ग (Subhash Chandra Garg) का तबादला ऊर्जा मंत्रालय में कर दिया है। सुभाष चंद्र गर्ग (SC Garg) आर्थिक मामलों के विभाग के भी सचिव थे। आधिकारिक अधिसूचना के अनुसार, गर्ग अब अजय कुमार भल्ला की जगह ऊर्जा सचिव के तौर पर कार्यभार संभालेंगे। भल्ला को गृह मंत्रालय में ओएसडी (ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी) नियुक्त किया गया है। वहीं, निवेश व सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (DIPAM) के वर्तमान सचिव अतानु चक्रवर्ती आर्थिक मामलों के विभाग के नए सचिव होंगे। नौकरशाही में किया गया बदलाव तत्काल प्रभाव से लागू होगा।

बजट पेश होने के 20 दिन बाद दिखाया बाहर का रास्ता

बता दें, वित्त सचिव का पद नौकरशाही में बेहद प्रतिष्ठित माना जाता है और आमतौर पर यह पद मंत्रालय में सबसे वरिष्ठ अधिकारी को दिया जाता है। इस फेरबदल को 58 वर्षीय गर्ग के लिए डिमोशन के तौर पर देखा जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इसके तुरंत बाद सुभाष गर्ग ने अपने स्वैच्छिक अवकाश यानी जल्दी रिटायरमेंट की अर्जी भी दाखिल कर दी है।


गर्ग 1983 बैच के राजस्थान कैडर के आईएएस अफसर हैं और वह जून 2017 से आर्थिक मामलों के विभाग में बतौर सचिव कार्यरत थे। उन्हें इसी साल मार्च में वित्त सचिव नियुक्त किया गया था और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा 5 जुलाई को बजट पेश किये जाने के एक महीने के अंदर ही उन्हें मंत्रालय से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है।

कौन होगा निर्मला सीतारमण का अगला सिपहसालार

बताया जा रहा है कि वरिष्ठता के आधार पर अब वर्तमान राजस्व सचिव अजय भूषण पांडेय और वित्तीय सेवा सचिव राजीव कुमार में से कोई एक वित्त सचिव के तौर पर कार्यभार संभाल सकता है। हालांकि सरकार की तरफ से अभी तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है। दोनों ही अधिकारी 21 अगस्त 1984 में भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में शामिल हुए थे। हालांकि कुमार उम्र में पांडेय से वरिष्ठ हैं। वहीं, डीआईपीएम के अगले सचिव अनिल कुमार खाची होंगे। वह 1986 बैच के हिमाचल प्रदेश कैडर के IAS अधिकारी हैं।

पढ़ें और क्या फेरबदल हुआ

इसके अलावा, दिल्ली के पूर्व चीफ सेक्रेटरी और दूरसंचार विभाग (डीओटी) के अतिरिक्त सचिव अंशु प्रकाश को विभाग का सचिव बनाया गया है। वह डीओटी की मौजूदा सचिव अरुणा सुंदरराजन की सेवानिवृत्ति के बाद 31 जुलाई को पदभार ग्रहण करेंगे। नियुक्ति मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने भारतीय विमान पत्तन प्राधिकरण के वर्तमान चेयरमैन गुरुप्रसाद महापात्रा की नियुक्ति वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय में उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) के सचिव के रूप में करने को मंजूरी प्रदान की है। साथ ही, आरएस शुक्ला संसदीय कार्य मंत्रालय में सचिव नियुक्त किये गए हैं। अनुराधा मित्रा को गृह मंत्रालय में सचिव (राजभाषा विभाग) जबकि रवि कपूर को कपड़ा मंत्रालय में सचिव नियुक्त किया गया है।


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)