गुजरात : पूर्व सांसद विट्ठल भाई रादडि‍या नहीं रहे, पीएम मोदी और मुख्‍यमंत्री रूपाणी ने जताया दुख

गुजरात के पूर्व सांसद और पाटीदार नेता विट्ठल भाई रादडि‍या का सोमवार सुबह निधन हो गया। खबरों के अनुसार उनके पार्थिव श‍रीर को मंगलवार दोपहर 12 बजे तक जाम कंडोरणा गांव में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा, उसके बाद वहीं अंतिम संस्‍कार होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी सहित भाजपा व कांग्रेस के नेताओं ने उनके निधन को गुजरात के लिए बड़ी क्षति बताई है।

इस संबंध में गुजरात के अन्‍न व नागरिक आपूर्ति विभाग मंत्री जयेश रादडिया ने खुद सोशल मीडिया में पोस्‍ट कर यह जानकारी दी। रादडिया लंबे समय से बीमार थे तथा राजकोट में उनका उपचार चल रहा था। सोमवार को उन्‍होंने अंतिम सांस ली। विट्ठल रादडिया के पार्थिव शरीर को उनके पैत्रक गांव जामकंडोरणा में मंगलवार को अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा, उसके बाद वहीं अंतिम संस्‍कार होगा।

सौराष्‍ट्र के सहकारी मंडली व किसान संगठनों में उनकी गहरी पैठ थी। रादडि‍या 2012 तक कांग्रेस में थे, लेकिन पार्टी नेताओं से विवाद व नेता विपक्ष के पद को लेकर उन्‍होंने कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया था। बाद में उनके पुत्र जयेश रादडिया भी भाजपा में शामिल हुए तथा कैबिनेट मंत्री बन गए।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर विट्ठल रादडिया के  निधन पर दुख जताते हुए कहा कि गुजरात ने एक बड़ा नेता खो दिया। मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी, भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष जीतूभाई वाघाणी, ऊर्जा मंत्री सौरभ पटेल, कांग्रेस के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता शक्‍ति सिंह गोहिल सहित कई नेताओं ने रादडिया के निधन पर दुख जताते हुए कहा कि राज्‍य ने एक सामाजिक व राजनीतिक व्‍यक्तित्‍व खो दिया, विट्ठल भाई हमेशा समाज व प्रदेश के मुद्दों को लेकर सक्रिय रहे।

गौरतलब है कि उन्‍होंने तहसील पंचायत से लेकर संसद तक का सफर तय किया। जनता की समस्‍याओं के समाधान केि‍लए वह एक जुझारू नेता के रूप में काम करते थे। एनसीपी प्रवक्ता रेशमा पटेल ने भी उनके निधन पर दुख जताते हुए कहा कि गुजरात ने एक सच्चा नेता खो दिया l


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)