झारखण्ड : राजस्थान से लौटा पति घर के बजाए क्वारंटीन सेंटर में रुका, पत्नी ने कोरोना के शक में की आत्महत्या

  • Follow Newsd Hindi On  
झारखण्ड : राजस्थान से लौटा पति घर के बजाए क्वारंटीन सेंटर में रुका, पत्नी ने कोरोना के शक में की आत्महत्या

इस बात में कोई शक नहीं है कि कोरोना वायरस कितना खतरनाक है। इस वायरस से रोज करीब सैकड़ों लोगों की मौत हो रही है। इतना ही नहीं लोग कोरोना के खौफ के चलते आत्महत्या करने लगे हैं। ऐसे ही अब झारखंड के पलामू जिले से सोचने पर मजबूर और हैरान करने वाला मामला प्रकाश में आया है। यहां पर एक महिला ने पति को कोरोना वायरस होने के शक में आत्महत्या की है।

दरअसल, पलामू के नावा जयपुर थाना क्षेत्र के बूढ़ी गांव में रहने वाला धनजीत भुइया नाम का प्रवासी मजूदर राजस्थान से लौटा था। लेकिन वह अपने घर जाने के बजाए एतिहायती तौर पर अपने गांव के स्कूल में रुक गया। इस बात की जानकारी जब उसकी पत्नी रिनता देवी को पता चली तो उसे शक हुआ, कहीं, उसके पति कोरोना वायरस संक्रमित तो नहीं हो गये हैं। इसलिए ही वह घर नहीं आये। पत्नी ने इसी खौफ के चलते जहर खाकर खुदकुशी कर ली।


मृत महिला का पति 15 साथियों के साथ अपने गांव लौटा था। इस दौरान उन सबकी जांच के बाद सभी को 14 दिनों तक होम क्वारंटीन में रहने को गया। धनजीत ने यह सोचा घर जाने पर परिवार के सदस्यों से मिलना पडेगा तो क्यो नही स्कूल में ही 14 दिन गुजारा जाये बस यही सोच कर वह घर नही गया, उधर सदमें में उसकी पत्नी ने जहर खाकर अपनी जान दे दी।

घटना की सूचना मिलने के बाद शुक्रवार को पुलिस ने बूढ़ी गांव पहुंच कर शव को अपने कब्जे लिया है। शनिवार को शव को पोस्टमार्टम के लिए पलामू मेडिकल कालेज अस्पताल भेजा जायेगा। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)