हैदराबाद एनकाउंटर मामले में याचिका का सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान, 11 दिसंबर को होगी सुनवाई

  • Follow Newsd Hindi On  
CAA के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग ने खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा, भारत ने आपत्ति जताई

हैदराबाद मुठभेड़ (Hyderabad Encounter) मामले में दायर जनहित याचिका पर सुप्रीम कोर्ट बुधवार (11 दिसंबर) को सुनवाई करेगी। चीफ जस्टिस एस ए बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने इस मामले की शीघ्र सुनवाई करने के वकील जी एस मणि की अपील का संज्ञान लिया। मणि ने कहा कि इस मुठभेड़ में शामिल पुलिस अधिकारियों के खिलाफ स्वतंत्र जांच के लिए दायर याचिका पर तत्काल सुनवाई की जरूरत है।

एक अन्य अधिवक्ता मनोहर लाल शर्मा ने भी इसी तरह की याचिका दायर की है। शर्मा की याचिका में कहा गया है कि उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीशों की निगरानी में विशेष जांच दल की जांच की होनी चाहिए। याचिका में मणि और वकील प्रदीप कुमार यादव ने दावा किया है कि यह मुठभेड़ फर्जी थी और इस मामले में संबंधित पुलिस अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज होना चाहिए।


तेलंगाना सरकार ने गठित की SIT

इसके अलावा तेलंगाना सरकार ने इस बहुचर्चित एनकाउंटर की जांच के लिए एसआईटी (SIT) गठित कर दी है। एसआईटी का नेतृत्व राचकोंडा के पुलिस कमिश्नर महेश एम भागवत करेंगे।

गौरतलब है कि हैदराबाद में एक पशु चिकित्सक युवती के साथ दुष्कर्म करने और उसके बाद उसकी हत्या करने के सभी चारों आरोपियों को पुलिस ने शुक्रवार को एक मुठभेड़ में मार गिराया था। इसके बाद से ही एनकाउंटर पर सवाल उठने लगे थे।


हैदराबाद दुष्कर्म : राष्ट्रीय आयोग ने मुठभेड़ की जांच शुरू की

हैदराबाद मुठभेड़ : आरोपियों के अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को करना होगा इंतजार

हैदराबाद एनकाउंटर: मारे गए आरोपियों के परिजनों ने पुलिस कार्रवाई पर उठाए सवाल

हैदराबाद मुठभेड़ की तुरंत जांच हो : कानूनी विशेषज्ञ

हैदराबाद एनकाउंटर पर अरविंद केजरीवाल बोले- आपराधिक न्याय प्रणाली से लोगों का भरोसा उठना चिंता का विषय


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)