महिला क्रिकेट : मंधाना कीअर्धशतकीय पारी बेकार, 2 रन से हारा भारत

महिला क्रिकेट : मंधाना कीअर्धशतकीय पारी बेकार, 2 रन से हारा भारत

हेमिल्टन| स्मृति मंधाना (86) की बेहतरीन अर्धशतकीय पारी के बावजूद भारतीय महिला क्रिकेट टीम को रविवार को यहां सेडन पार्क मैदान पर खेले गए तीसरे टी-20 मुकाबले में न्यूजीलैंड के हाथों दो रनों से हार मिली। मेजबान टीम द्वारा दिए गए 162 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम निर्धारित ओवरों की समाप्ति पर चार विकेट पर 159 रन ही बना सकी। मंधाना के अलावा जेमिमा रोड्रिग्वेड ने 21, मिताली राज ने नाबाद 24 और दीप्ति शर्मा ने नाबाद 21 रन बनाए। न्यूजीलैंड की ओर से सोफी डिवाइन ने सर्वाधिक दो विकेट लिए।

इसके साथ मेजबान टीम ने तीन मैचों की यह सीरीज 3-0 से अपने नाम कर ली।


भारत का पहला विकेट प्रिया पूनिया (1) के रूप में 29 के कुल योग पर गिरा। उन्हें लेह कास्पेरेक ने विकेट के पीछे केट मार्टिन के हाथों कैच कराया। इसके बाद जेमिमा रोड्रग्वेज ने मंधाना के साथ दूसरे विकेट के लिए 75 रनों की साझेदारी कर भारत को मजबूती की ओर अग्रसर दिया।

भारत के लिए जब सबकुछ सही चल रहा था, तभी 76 के कुल योग पर जेमिमा 21 के निजी योग पर सोफी डिवाइन की गेंद पर कप्तान एमी सैदरवेट के हाथों लपकी गईं। जेमिमा ने 17 गेंदों पर तीन चौके लगाए।

कप्तान हर्मनप्रीत कौर (2) अधिक देर तक विकेट पर नहीं टिक सकीं। इसी बीच मंधाना ने अपना अर्धशतक पूरा किया। कौर का स्थान लेने आईं टीम की सबसे सीनियर सदस्य मिताली ने मंधाना के साथ चौथे विकेट के लिए 21 रनों की साझेदारी की।


एक समय एसा लग रहा था कि मंधाना आसानी से अपना शतक पूरा कर लेंगी लेकिन 16वें ओवर की तीसरी गेंद पर वह डिवाइन की गेंद पर लपकी गईं। मंधाना ने 62 गेंदों का सामना कर 12 चौके और एक छक्का लगाया।

उनका स्थान लेने आईं दीप्ति हालात के अनुरूप बल्लेबाजी नहीं कर सकीं और शुरूआत में विचलित नजर आईं। इससे भारत का आस्किंग रन रेट काफी ऊपर चला गया। 18वें ओवर की समाप्ति तक भारत ने चार विकेट पर 139 रन बनाए थे। भारत को 12 गेंदों पर 23 रन चाहिए थे। इस ओवर में भारतीय बल्लेबाज सिर्फ रन बना सकीं।

19वें ओवर की समाप्ति तक भारत का स्कोर 146 हो गया। अंतिम ओवर में उसे 16 रन चाहिए थे। मिताली ने कासपेरेक की पहली गेंद पर चौका लगाकर अच्छा आगाज किया। तीसरी गेंद पर दीप्ति ने भी चौका लगाया। भारत को अंतिम गेंद पर जीत के लिए चार रनों की जरूरत थी लेकिन स्ट्राइकर मिताली एक रन ही ले सकीं।

इससे पहले, सोफी डिवाइन (72) के तेज अर्धशतक की बदौलत न्यूजीलैंड ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में सात विकेट पर 161 रन बनाए।

52 गेंदों पर 8 चौके तथा दो छक्के लगाने वाली डिवाइन के अलावा सूजी बेट्स ने 24 तथा कप्तान एमी सैदरवेट ने 31 रनों का योगदान दिया। हाना रो 12 रन बनाकर आउट हुईं।

बेट्स और डिवाइन ने पहले विकेट के लिए 46 रनों की साझेदारी की। बेट्स छठे ओवर की तीसरी गेंद पर रेड्डी द्वारा कप्तान हर्मनप्रीत कौर के हाथों कैच कराई गईं। बेट्स ने 18 गेंदों की तेज पारी में पांच चौके लगाए।

बेट्स के आउट होने के बाद हाना विकेट पर आईं। तब तक सोफी रफ्तार पकड़ चुकी थीं। हाना का विकेट 69 के कुल योग पर गिरा। उनके नौ गेंदों की पारी में एक चौका शामिल है।

इसके बाद एमी ने सोफी के साथ मोर्चा सम्भाला और इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 71 रनों की साझेदारी की। सोफी ने अपना अर्धशतक पूरा किया और फिर 140 के कुल योग पर मानसी जोशी की गेंदो पर बोल्ड हो गईं।

सोफी के आउट होने के बाद कीवी टीम ने लगातार अंतराल पर विकेट गंवाए। 142 के कुल योग पर कप्तान आउट हुईं। कप्तान ने 23 गेंदों पर तीन चौके लगाए। कप्तान को राधा यादव ने जेमिमा रोड्रिगेज के हाथों कैच कराया।

इसी तरह 151 के कुल योग पर केट मार्टिन (8) का विकेट गिरा। केट को मानसी जोशी ने सीधे थ्रो पर रन आउट किया। कीवी टीम का छठा विकेट लेह कास्पेरेक के रूप में गिरा। वह खाता भी नहीं खोल सकीं।

एना पीटरसन सात रन बनाकर नाबाद लौटीं जबकि अंतिम गेंद पर दीप्ति शर्मा ने लीया टाहूहू को मानसी के हाथों कैच कराया। लीया ने पांच रन बनाए।

भारत की ओर से दीप्ति शर्मा ने दो विकेट लिए जबकि अरुंधति रेड्डी, राधा यादव, मानसी जोशी और पूनम यादव को एक-एक सफलता मिली।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)