इंदौर में पुलिस जवानों पर भीड़ ने किया पथराव, 7 गिरफ्तार, 3 पर रासुका

यूपी: क्वारंटाइन खत्म होने के बाद जेल भेजे गए 17 जमाती

कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए इंदौर में लॉक डाउन है और इस बीच सड़क पर जमा लोगों का हटाने गए पुलिस जवानों पर भीड़ ने पथराव कर दिया। पुलिस ने इस मामले में सात लोगों को गिफ्तार किया है, जिनमें से तीन के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की जा रही है।

पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) हरि नारायण चारी मिश्रा ने बुधवार को संवाददाताओं को बताया है कि चंदन नगर थाना क्षेत्र में पुलिस ने कुछ लोगों को खड़े देखा तो उन्हें वहां से हटने को कहा। इस पर कुछ लोगों ने पुलिस जवान पर पथराव कर दिया। इस मामले को पुलिस ने गंभीरता से लिया और सात लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें से तीन के खिलाफ रासुका की कार्रवाई की जा रही है।


कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के मकसद से इंदौर, भोपाल सहित अन्य प्रमुख शहरों में पूरी तरह लॉक डाउन है। इसके अलावा अन्य स्थानों पर लॉक डाउन के साथ निषेधाज्ञा 144 लागू है। पुलिस इसका पालन कराने के लिए सक्रिय है। इसी दौरान यह घटनाएं भी सामने आ रही हैं।

ज्ञात हो कि, इससे पहले इंदौर के टाटपट्टी बाखल इलाके में सरकारी अमले पर कुछ शरारती लोगों ने पथराव किया था। जिस मामले में चार पर रासुका की कार्रवाई की गई थी। इसी तरह भोपाल के इस्लामपुरा में पुलिस के दो जवानों पर बदमाशों ने लॉक डाउन के दौरान चाकू से हमला किया था। इस मामले में पांच लोग गिफ्तार किए गए और उन पर रासुका की कार्रवाई हुईं। एक अन्य मामला ग्वालियर के भितरवार क्षेत्र में आया था, जहां रेत माफियाओं ने सरकारी अमले पर पथराव किया था, जिसमें तहसीलदार घायल हुआ था।


(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)