Connect with us

टेक

सबसे चर्चित गेम पबजी की लत पड़ी भारी, युवक ने खोया मानसिक संतुलन

Published

on

सबसे चर्चित गेम पबजी की लत पड़ी भारी, युवक ने खोया मानसिक संतुलन।

 


मार्च 2017 में बनाया गया यह गेम पबजी अब किसी परिचय का मोहताज नहीं है, सिर्फ भारत ही नहीं पूरी दुनिया में यह छाया हुआ है। युवाओं में इसका क्रेज अब एक भयानक रूप लेने लगा है। हाल ही में जम्मू कश्मीर में हुए एक हादसे ने इस गेम को फिर से सुर्ख़ियों में ला दिया है।
इस गेम को खेलने की वजह से जम्मू-कश्मीर में एक फिटनेस ट्रेनर ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया है और खुद को ही मुक्के मार रहा है। लगातार १० दिन तक पबजी खेलते-खेलते उसे पबजी की इतनी लत लग गयी है कि उसने खुद को चोट पहुंचा कर घायल कर लिया जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती किया गया है जहाँ डॉक्टर्स के लिए भी यह एक हैरान कर देने वाला मामला बना हुआ है। डॉक्टर्स ने बताया कि  "युवक फिलहाल ठीक स्थिति में नहीं है, वो आंशिक रूप से अपना मानसिक संतुलन खो चुका है,उसे कड़ी निगरानी में रखते हुए उसका इलाज शुरू कर दिया गया है उम्मीद है कि वो कुछ दिनों में ठीक हो जाएगा।"

इस गेम की पॉपुलैरिटी इस बात से समझी जा सकती है कि अब तक यह यह गेम प्लेयर्स अननोन बैटलग्राउंड्स (PUBG) को पांच करोड़ से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है और यह दुनिया का पांचवां सबसे ज्यादा बिकने वाला गेम बन चुका है। इस गेम को और उत्साही बनाने के लिए इसमें नए-नए अपडेट्स और फीचर्स डाले जा रहे हैं।  और युवाओं में इसका क्रेज बढ़ता ही जा रहा है।
जम्मू कश्मीर के इस फिटनेस ट्रेनर की कहानी इस गेम से जुड़ी दुर्घटना का यह छठा मामला है मतलब इससे पहले इससे पहले 5 लोगों का इलाज डॉक्टर कर चुके हैं, इसके और भी संगीन मामले देखने को मिले हैं जिसमें तलाक़ होने से लेकर बच्चे तक  बीमार हो रहे हैं,पबजी खेलने की लत से एक 15 साल का बच्चा   बीमार पड़ा था, जिसका इलाज बेंगलुरु के अस्पताल में हुआ था।
जम्मू-कश्मीर में इस गेम से कई लोगों को बीमार पड़ता देखकर लोगों ने जम्मू-कश्मीर के गर्वनर सत्यपाल मलिक से गुजारिश की है कि PC, एंडॉयड और आईओएस पर उपलब्ध इस गेम को राज्य और देश में बैन कर दिया जाए।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टेक

अब माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 7 पर नहीं देगा अपडेट।

Published

on

अब माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 7 पर नहीं देगा अपडेट।

पर्सनल कंप्यूटर  पर विंडोज 7 बहुत आम बात है,पर अब कुछ नया आने वाला है। माइक्रोसॉफ्ट ने हाल में घोषणा की है कि ‘अब से एक साल के बाद विंडोज 7 के लिए सिक्योरिटी अपडेट या फ्री सपोर्ट अब नहीं मिलेगा।’

देखा जाये तो विंडोज 7 माइक्रोसॉफ्ट के लिए एक बड़ी सफलता साबित हुआ है, इसके बाद विंडोज 8 आया और बाद में विंडोज 10 के रूप में एक बड़ा सुधार किया गया, लेकिन माइक्रोसॉफ्ट के नए अपडेट-संचालित मॉडल और इंटीग्रेटेड विज्ञापनों ने कई यूजर्स को माइक्रोसॉफ्ट के लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम से दूर कर दिया।

अभी एनालिटिक्स सर्विस नेट एप्लिकेशन के अनुसार, विंडोज 7 करीब 42.8 प्रतिशत विंडोज पीसी पर इंस्टॉल है और काम कर रहा है। कहा जा रहा है कि 14 जनवरी 2020 से विंडोज 7 के अपडेट बंद करने के बाद भी बड़ी संख्या में कंप्यूटर में यह इस्तेमाल होता रहेगा।

बता दें कि माइक्रोसॉफ्ट उक्त तिथि तक यूजर्स को विंडोज 7 पर स्विच करने पर जोर दे रहा होगा, सिर्फ एक साल तक ही फ्री सपोर्ट मिलेगा जिसके बाद तीन साल तक कुछ कीमत चुकाने पर ही सिक्योरिटी अपडेट्स मिलेंगे, जिनकी कीमत हर साल बढ़ती जाएगी।

Continue Reading

टेक

सैमसंग की ‘एम’ सीरीज जल्द ही ‘एमेजन डॉट कॉम’ पर

Published

on

By

सैमसंग की 'एम' सीरीज जल्द ही 'एमेजन डॉट कॉम' पर

गुरुग्राम, सैमसंग इंडिया’ ने सोमवार को कहा कि वह 28 जनवरी को गैलेक्सी ‘एम’ सीरीज लांच करेगा जो पांच मार्च से ‘एमेजन डॉट कॉम’ पर उपलब्ध होगा। कंपनी ने कहा कि नई सीरीज के स्मार्टफोन लांच करने के मामले में भारत पहला देश होगा।

‘एम’ सीरीज सैमसंग के ऑनलाइन स्टोर पर भी उपलब्ध होगी।

डिवाइसेज की नई रेंज शक्तिशाली डिस्प्ले, कैमरा, बैटरी और प्रोसेसर के साथ आई है जिससे डिवाइसेस युवाओं के अनुकूल प्रदर्शन करेंगी।

Continue Reading

टेक

फ्रांस के हैकर का दावा – अज्ञात शख्स ने हैक की पीएम मोदी की वेबसाइट

Published

on

फ्रांस के हैकर इलियट एंडरसन का दावा - अज्ञात शख्स ने हैक की पीएम मोदी की वेबसाइट narendramodi.in hacked claims french hacker Elliot Anderson | newsd - Hindi News

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आधिकारिक वेबसाइट ‘नरेंद्र मोदी डॉट इन’ (narendramodi.in) सोमवार को हैक हो गई। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, एक अज्ञात सूत्र ने पीएम मोदी की वेबसाइट पर एक टेक्स्ट डॉक्यूमेंट अपलोड कर दिया, जिसमें फ्रांस के एक चर्चित हैकर का नाम लिखा था। फ्रांस से ताल्लुक रखने वाले इलियट एंडरसन नामक इस हैकर ने ट्विटर पर यह जानकारी देते हुए कहा कि मोदी की वेबसाइट को हैक करने वाले अज्ञात हैकर के पास वेबसाइट के डेटा बेस से जुड़ी सभी जानकारियां हैं। इलियट ने नरेंद्र मोदी से अपील की है कि वह उससे संपर्क करें और वेबसाइट की सुरक्षा ऑडिट जल्द से जल्द करवाएं।


इलियट ने एक और ट्वीट में लिखा है कि उन्होंने पीएम मोदी की वेबसाइट हैक नहीं की और उनके आग्रह करने के बाद अज्ञात हैकर ने वेबसाइट से टेक्स्ट फाइल को डिलीट कर दिया है। ज्ञात हो कि इलियट एंडरसन खुद को सिक्योरिटी रिसर्चर बताते हैं और भारतीय नागरिकों के आधार डेटा की सुरक्षा पर भी सवाल उठाते रहे हैं।


सेना के 50 जवानों को हनी ट्रैप में फंसा रही थी ISI एजेंट, एक जवान गिरफ्तार

Continue Reading
Advertisement

Trending

© 2018 Newsd Media Private Limited. All rights reserved.