India vs Bangladesh 2019: बांग्लादेश के खिलाफ अपना पहला डे-नाइट टेस्ट खेलेगी टीम इंडिया, 22 नवंबर से होगा मैच

India vs Bangladesh 2019: बांग्लादेश के खिलाफ अपना पहला डे-नाइट टेस्ट खेलेगी टीम इंडिया, 22 नवंबर से होगा मैच

India vs Bangladesh 2019: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय डे-नाइट टेस्ट मैच (Day-Night Test Match) का आयोजन करने जा रहा है। टीम इंडिया 22 नवंबर को बांग्लादेश के खिलाफ अपना पहला डे-नाइट टेस्ट खेलेगी। यह मैच कोलकाता के ईडन गार्डन में खेला जाएगा। बीसीसीआई के नवनियुक्त प्रेसिडेंट सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने मंगलवार को इस बात की पुष्टि कर दी है। भारत और बांग्लादेश की टीमें क्रिकेट इतिहास में पहली बार पिंक बॉल से क्रिकेट खेलती नज़र आएंगी। सौरभ गांगुली ने बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को इस दौरे पर पिंक बॉल टेस्ट मैच का प्रस्ताव दिया था, जिसे बीसीबी ने आज स्वीकार कर लिया।

बता दें, बीसीसीआई ने इस सिलसिले में बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) को एक प्रस्ताव भेजा था। इसकी पुष्टि करते हुए बीसीबी के क्रिकेट ऑपरेशन चेयरमैन अकरम खान ने रविवार को मीडिया से कहा था, “बीसीसीआई ने हमें (एक दिन-रात टेस्ट) प्रस्ताव दिया है और हम इस पर चर्चा करने के बाद उन्हें बता देंगे।”


उन्होंने कहा, “इस संबंध में हमें दो-तीन दिन पहले एक पत्र मिला है और हम इस संबंध में निर्णय लेंगे। लेकिन हमने इस पर (अभी तक) विचार नहीं की है। हम उन्हें एक या दो दिन के अंदर अपने फैसले से अवगत करा देंगे।”

मालूम हो कि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने शुक्रवार को कहा था कि भारतीय कप्तान विराट कोहली दिन-रात टेस्ट खेलने के विचार से सहमत हैं और भारत जल्द ही दिन-रात टेस्ट मैच खेल सकता है।

गांगुली ने ईडन गार्डन्स स्टेडियम में बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) द्वारा आयोजित स्वागत समारोह में कहा था, “हम सभी इस बारे में सोच रहे हैं। हम इस बारे में कुछ करेंगे। मैं दिन-रात के टेस्ट मैच में विश्वास रखता हूं। कोहली भी इसके लिए सहमत हैं। मुझे अखबारों में बहुत सी रिपोर्ट दिखाई देती हैं कि वह इसके पक्ष में नहीं हैं, लेकिन यह सच नहीं है। खेल को आगे बढ़ने की जरूरत है और यही आगे का रास्ता है। लोगों को काम खत्म करके चैंपियंस को खेलते हुए देखने आना चाहिए। मुझे नहीं पता कि ऐसा कब होगा, लेकिन यह जरूर होगा।”



ICC ने लगाया शाकिब अल हसन पर दो साल का प्रतिबंध, मैच फिक्सिंग से जुड़ा है मामला

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)