क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय नशा निषेध दिवस? स्वास्थ्य और न्याय पर जोर देता है इस साल का थीम

हर साल की 26 जून को दुनिया भर में ‘अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस’ (International Day Against Drug Abuse and Illicit Trafficking) के रूप में मनाया जाता है। इसकी शुरुआत वर्ष 1987 में संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा की गई थी।

दुनिया में नशीली दवाओं का सेवन करने वाले लोगो की संख्या बढ़ती ही जा रही है। युवा वर्ग इससे ज्यादा प्रभावित हो रहा है। इसी के विश्व भर में इन दवाओं के सेवन से होने वाले नुकसान और समस्याओं के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए यह दिन मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य दुनिया भर के लोगों को नशीली दवाओं के दुरुपयोग से बचाना और अवैध व्यापार को रोकना है।


अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस को मनाने की घोषणा संयुक्त राष्ट्र  द्वारा 7 दिसंबर 1987 को की गई थी। तब से ही हर साल 26 जून को यह दिन मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में लोगों, समुदायों और विसंघभिन्न संगठनों द्वारा क्षेत्रीय स्तर पर नशीली दवाओं के सेवन, इससे बचने के उपाय और अवैध व्यापार के प्रति लोगों को जागरूक किया जाता है।


International Men’s Health Week 2019: जानें ‘पुरुष स्वास्थ्य सप्ताह’ का महत्व और थीम


अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस 2019: थीम

हर वर्ष इस दिन के लिए संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा एक थीम तय की जाती है और पूरी दुनिया के लोग उस थीम के अनुसार इस दिन को मनाते हैं। इस वर्ष अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस का थीम ‘न्याय के लिए स्वास्थ्य, स्वास्थ्य के लिए न्याय’ (Health for Justice, Justice for Health) है।


Image result for international day against drug abuse and illicit trafficking hindi

इस साल के थीम में इस बात पर जोर डाला गया है कि दवाओं के मामले में न्याय और स्वास्थ्य एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। किसी एक को पाने के लिए दूसरे पर काम करना बहुत जरूरी है।

नशीली दवाओं की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आपराधिक न्याय, स्वास्थ्य और सामाजिक सेवाओं पर काम करने की जरूरत होती है। इस दिन को मनाने के लिए यूएनओडीसी (United Nations Office on Drugs and Crime) लोगों, गैर-लाभकारी संगठनों, निजी क्षेत्र और सदस्य राज्यों को अपने सोशल मीडिया कैंपेन में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करता है। साथ ही सोशल मीडिया कैंपेन पैकेज में उपलब्ध कराए गए संसाधनों के सही उपयोग पर जोर देता है।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)