ईरान ने माना, ‘मानवीय भूल’ के कारण मार गिराया यूक्रेन का विमान

ईरान ने माना, 'मानवीय भूल' के कारण मार गिराया यूक्रेन का विमान

ईरान ने शनिवार को स्वीकार किया कि उसकी सेना ने मानवीय चूक के चलते ‘अनजाने में’ यूक्रेन के विमान को मार गिराया था, जिससे उसमें सवार 176 लोगों की मौत हो गई। यह बयान शनिवार सुबह आया, जिसमें कहा गया कि मानवीय चूक के चलते यह दुर्घटना हुई। ईरान सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि ईरानी मिसाइलों ने ही विमान को गलती से निशाना बनाया था। ईरान के विदेश मंत्री ने इसकी पुष्टि करते हुए खेद जताया है।

ईरान के विदेश मंत्री जवाद जरीफ ने ट्वीट किया, “दुख करनेवाला दिन। आर्मी की शुरुआती जांच में सामने आया है कि अमेरिका के हमले के वक्त मानवीय भूल की वजह से हादसा हुआ।”


गौरतलब है कि यूक्रेन का यह विमान 8 जनवरी की सुबह ईरान की राजधानी तेहरान हवाई अड्डे से उडान भरने के कुछ ही देर बाद दुर्घटना का शिकार हो गया था। विमान यूक्रेन की राजधानी कीव जा रहा था। इस विमान हादसे में 176 लोगों की मौत हो गई जिनमें ईरान के 82 और कनाडा के 63 नागरिक थे। अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन जैसे देश पहले से ही गलती से विमान को निशाना बनाए जाने की बात कर रहे थे। इसमें ईरान और कनाडा के अलावा यूक्रेन के 11, स्वीडन के 10, अफगानिस्तान के चार जबकि जर्मनी और ब्रिटेन के तीन-तीन नागरिक सवार थे।


यूक्रेन के विमान को ईरानी मिसाइल ने मार गिराया था- कनाडाई PM ट्रूडो

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)