झारखंड चुनाव: कांके, बोकारो में प्रत्याशी बदल सकती है कांग्रेस, ये है वजह

झारखंड चुनाव: कांके, बोकारो में प्रत्याशी बदल सकती है कांग्रेस, ये है वजह

Jharkhand Assembly Election 2019: झारखंड में विधानसभा चुनाव की तारीखें निकट आती जा रही हैं। उम्मीदवारों के नाम घोषित करने में राजनीतिक दलों को काफी माथापच्ची करनी पड़ रही है। टिकट बंटवारे को लेकर करीब-करीब हर पार्टी में बवाल मचा हुआ है। इसी बीच 31 सीटों पर विधानसभा चुनाव लड़ रही कांग्रेस अभी तक कुल 27 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर चुकी है। पहले चरण के लिए कई उम्मीदवारों ने पर्चा भी भर दिया है। लेकिन कुछ सीटों पर पार्टी के उम्मीदवारों को लेकर अंदरखाने विरोध भी लगातार जारी है। बोकारो, कांके (एससी) और सिमडेगा (एसटी) सीट पर कांग्रेस द्वारा घोषित प्रत्याशियों को लेकर कार्यकर्ताओं में सबसे ज्यादा नाराजगी है।

पार्टी सूत्रों का कहना है कि बीजेपी के खिलाफ इन सीटों पर उतारे गये उम्मीदवार कहीं से भी फिट नहीं बैठते हैं। लेकिन प्रदेश नेतृत्व के कुछ नेताओं ने आपसी स्वार्थ को देख इन सीटों पर ऐसे उम्मीदवारों को टिकट दिया है। कार्यकर्ताओं के मुखर विरोध से पार्टी हाईकमान उम्मीदवार बदलने पर विचार कर रही है।


गौरतलब है कि कांके सीट पर कुछ माह पहले पार्टी में शामिल हुए पूर्व डीजीपी राजीव कुमार, बोकारो सीट पर संजय सिंह और सिमडेगा पर भूषण बेरा को पार्टी ने उम्मीदवार बनाया है। इसमें सिमडेगा सीट पर दूसरे, कांके पर तीसरे और बोकारो सीट पर चौथे चरण में चुनाव होना है। कांके सीट की बात करें तो इस सीट पर रांची जिला ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष सुरेश बैठा प्रबल दावेदार थे। लेकिन सुरेश बैठा को दरकिनार कर पूर्व डीजीपी के नाम पर मुहर लग गई।

बताया जा रहा है कि बोकारो सीट पर संजय सिंह की उम्मीदवारी के ऐलान से भी कांग्रेस कार्यकर्ता ख़फ़ा  हैं। यहां से यूथ कांग्रेस की उपाध्यक्ष श्वेता सिंह और महिला कांग्रेस की परिंदा सिंह को प्रबल दावेदार बताया जा रहा है। मुमकिन है पार्टी अपना प्रत्याशी बदल दे। इसके साथ ही सिमडेगा से विशाल तिर्की के नाम की चर्चा पहले से ही जोरों पर है। लेकिन यहां से भूषण बेरा को उम्मीदवार बना दिया गया। हालाँकि, सिमडेगा सीट के लिए नामांकन का आज आखिरी दिन है। ऐसे में पार्टी कार्यकर्ताओं की नाराजगी को ध्यान में रखते हुए बोकारो और कांके के प्रत्याशी को बदला जा सकता है।


झारखंड: भाजपा नेताओं में ठनी, रघुबर दास और सरयू राय ने एक-दूसरे के खिलाफ किया नामांकन

झारखंड चुनाव : भाजपा, आजसू दोस्ती टूटने से कई क्षेत्रों में बदले समीकरण

झारखंड चुनाव: टिकट को लेकर कांग्रेस में विरोध के स्वर मुखर, निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे कई नाराज नेता


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)