झारखंड के इस अस्पताल का बुरा हाल, मोमबत्ती की रोशनी में हो रहा माताओं का प्रसव

झारखंड के इस अस्पताल का बुरा हाल, मोमबत्ती की रोशनी में हो रहा माताओं का प्रसव

झारखंड के एक स्वास्थ्य केंद्र में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। दरअसल पूर्वी सिंहभूम जिले के गुड़ाबांदा प्रखंड के सिंहपुरा के छागलीडांगा में स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में बिजली का ट्रांसफॉर्मर जल जाने के कारण सात दिनों से बिजली नहीं है। जिसके कारण स्वास्थ्य केंद्र की हालत चरमरा गई है। वहीं मोमबत्ती और टॉर्च लाइट की रोशनी में एएनएम द्वारा माताओं का प्रसव कराया जा रहा है। बिजली विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग को इस बारे में सूचना देने के बावजूद अभी तक बिजली बहाल नहीं हो पाई है। जिसके कारण स्वास्थ्य केंद्र में प्रसव को आने वाली माताओं को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

मोमबत्ती और टार्च की रोशनी में हो रहा प्रसव

वहीं इस बारे में स्वास्थ्य केंद्र की एएनएम माधुरी वीर तथा ग्रामीणों ने बताया कि पिछले रविवार को वज्रपात से ट्रांसफॉर्मर जल गया। इसके कारण पीएचसी में बिजली नहीं है। माधुरी वीर के मुताबिक बिजली नहीं रहने से लेबर रूम में मोमबत्ती की रोशनी में प्रसव कराना पड़ रहा है। पिछले सात दिनों में केंद्र में तीन माताओं का प्रसव इन्हीं हालातों में कराया गया। जच्चा और बच्चा के साथ मोमबत्ती जलाकर रात गुजारनी पड़ती है।


स्वास्थ्य उप केंद्र का अपना भवन नहीं

राज्य में स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल इसी से लगाया जा सकता है कि इस स्वास्थ्य केंद्र का अपना भवन तक नहीं है। स्वास्थ्य उप केंद्र भवन में ही स्वास्थ्य केंद्र संचालित होता है। इसलिए यहां चिकित्सा सुविधाओं का अभाव है। यहां पदस्थापित महिला चिकित्सक डॉ. भारती मिंज भी नहीं आती हैं। उन्हें किसी दूसरे अस्पताल में प्रतिनियुक्त किया गया है। ऐसे में एएनएम माधुरी वीर ही केंद्र का संचालन करती है।


झारखंड: अपने ही मंत्री को हराने की बात करते भाजपा नेताओं का ऑडियो क्लिप वायरल


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)