पंजाब: राजा वारिंग ने सुखबीर सिंह बादल को बताया जनरल डायर द्वितीय

पंजाब: राजा वारिंग ने सुखबीर सिंह बादल को बताया जनरल डायर द्वितीय

पंजाब में भटिंडा के हाई प्रोफाइल चुनावी मुकाबले की गर्मी को और बढ़ाते हुए कांग्रेस प्रत्याशी राजा वारिंग ने अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल को ‘बेहबल कलां और कोटकापुरा में शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों पर पुलिस फायरिंग के लिए जनरल डायर द्वितीय’ कह कर संबोधित किया।

वारिंग का मुकाबला अकाली दल की वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल से है। वारिंग ने आरोप लगाया कि सुखबीर बादल ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग का आदेश देकर जनरल डायर द्वितीय की तरह व्यवहार किया। प्रदर्शनकारियों पर पुलिस फायरिंग के समय सुखबीर पंजाब के उप मुख्यमंत्री व गृहमंत्री थे।


वारिग ने आरोप लगाया कि इसके बाद उन्होंने (अकाली नेताओं ने) दोषी पुलिसकर्मियों को बचाकर इस अपराध पर पर्दा डाला। उन्होंने लोगों को चेताते हुए कहा कि अगर वे अकाली दल को वोट देंगे तो वे भी धर्म ग्रंथों की बेअदबी के मामलों के भागीदार हो जाएंगे।

वारिंग की आवाज में अपनी आवाज मिलाते हुए मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि फायरिंग बिना तत्कालीन मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की अनुमति के मुमकिन नहीं हो सकती।

उन्होंने बादल को चेतावनी देते हुए कहा कि इन मामलों की जांच जल्द पूरी होने वाली है और इन शर्मनाक मामलों में जो दोषी पाया जाएगा, उसे बख्शा नहीं जाएगा।


अमरिंदर ने कहा कि उनकी पार्टी किसी भी कीमत पर देश की धर्मनिरपेक्षता की विचारधारा को नष्ट नहीं होने देगी।

अमरिंदर ने अकाली दल और उसकी सहयोगी भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि केवल कांग्रेस पंजाब और देश की तरक्की सुनिश्चित कर सकती है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार 1.2 लाख पदों पर भर्ती करेगी जिसे ‘पिछली सरकार द्वारा पूरी तरह से उपेक्षित किया गया।’

हरसिमरत कौर पर निशाना साधते हुए अमरिंदर ने कहा कि वह जिस तरह से चीखते चिल्लाते घूम रही हैं, वह वरिष्ठ राजनेता को शोभा नहीं देता। उन्होंने कहा, “आपने देखा है कि उन्होंने बीते दस साल में क्या किया है। वारिंग संसद में आपकी आवाज उठाएंगे।”

पंजाब में 19 मई को वोट डाले जाएंगे।

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)