UPSC की IES परीक्षा में जेएनयू छात्रों का जलवा, 32 में से 18 सीटों पर मारी बाजी

UPSC की IES परीक्षा में जेएनयू छात्रों का जलवा, 32 में से 18 सीटों पर मारी बाजी

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में 5 जनवरी को हुई हिंसा के कारण तनाव का माहौल कायम है। इसी बीच UPSC द्वारा जारी IES परीक्षा में जेएनयू के 18 छात्रों ने सफलता का परचम लहराया है। इंडियन इकोनॉमिक्स सर्विसेज (IES) में ऑल इंडिया लेवल पर सिर्फ 32 सीटें होती हैं और अकेले जेएनयू कैंपस के छात्रों ने 18 सीटों पर बाजी मारी है।

सबसे खास बात यह है कि परीक्षा में ओडिशा के रहने वाले स्टूडेंट अंशुमन कमलिया ने टॉप किया है।अंशुमन जवाहरलाल यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र में एमफिल कर चुके हैं। जेएनयू वीसी जगदीश कुमार ने आईईएस की परीक्षा में 8वीं रैंक लाने वाली जेएनयू की छात्रा यशस्विनी सारस्वत से मुलाकात की।


इसके बाद यशस्विनी सारस्वत ने कहा कि हम सभी काफी खुश हैं। इस साल जेएनयू के 18 छात्रों ने परीक्षा उत्‍तीर्ण की है। मैं खुद को भाग्यशाली और गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं कि जेएनयू का हिस्सा रहा हूं और इसे हासिल किया है। दुख होता है जब जेएनयू के बारे में कुछ बुरा कहा जाता है लेकिन हमें इसे चुनौती के रूप में लेना चाहिए कि यह एक अच्छा पक्ष है।

गौरतलब है कि हाल में हुई हिंसा के बाद एक बार फिर जेएनयू को लेकर अलग-अलग बहस जारी हैं। सत्ताधारी दल से जुड़े राइट विंग के नेता लगातार जेएनयू पर टुकड़े-टुकड़े गैंग का आरोप लगाते हैं, जबकि लेफ्ट विंग से जुड़े नेता और छात्र नेता जेएनयू को बेस्ट यूनिवर्सिटी बताकर मौजूदा सरकार पर उसे बर्बाद करने का आरोप लगाते रहते हैं। एक मत यह भी है कि जेएनयू में पढ़ाई से ज्यादा वहां पढ़ने वाले स्टूडेंट्स का ध्यान दूसरे मुद्दों पर ज्यादा रहता है। इस बीच यूपीएससी द्वारा आया यह रिजल्ट यह दर्शाता है कि जेएनयू कैंपस का माहौल चाहे हो शीर्ष परीक्षाओं में जेएनयू के छात्र अपना परचम लहरा रहे हैं।

UPSC IES final result 2019: ऐसे देखें रिजल्ट

स्टेप 1- सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट upsc.gov.in पर जाएं।

स्टेप 2- “What’s New” पर क्लिक करें।

स्टेप 3- अब “Indian Economic Service 2019” पर क्लिक करें।

स्टेप 4- एक पीडीएफ फाइल दिखेगी उसे ओपन करें।


JNU हिंसा: DU स्टूडेंट कोमल शर्मा के तौर पर हुई नकाबपोश लड़की की पहचान, तलाश में दिल्ली पुलिस

JNU के प्रोफेसर भी कुलपति एम. जगदीश कुमार के इस्तीफे की मांग पर अड़े

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)