जन्मदिन विशेष : जानें ममता कुलकर्णी का बॉलीवुड से ड्रग्स तस्करी तक का सफर

जन्मदिन विशेष : जानें ममता कुलकर्णी का बॉलीवुड से ड्रग्स तस्करी तक का सफर

बॉलीवुड में 90 के दशक के वक्त टॉप एक्ट्रेसेस में से एक रहीं ममता कुलकर्णी ने अमिताभ बच्चन से लेकर सलमान खान समेत कई बड़े सेलिब्रिटी के साथ काम किया लेकिन इसके बावजूद अब वह गुमनामी की जिंदगी जी रही हैं। अचानक से फिल्मी दुनिया से गायब हुईं ममता पिछले कई सालों से लोगों के सामने नहीं आई हैं। उन्होंने बॉलीवुड के दूर जाकर अपनी जिंदगी जीना तय किया है।

बॉलीवुड में ममता कुलकर्णी को एक ऐसी अभिनेत्री के तौर पर शुमार किया जाता है जिन्होंने 90 के दशक में अपने बोल्ड अभिनय से दर्शकों के दिलों पर खास पहचान बनायी। बेहद काम समय में बॉलीवुड में पहचान बनाने वाली एक्ट्रेस कई विवादों में भी रही जिससे उनका करियर जल्द ही खत्म हो गया था।


जन्मदिन विशेष : जानें ममता कुलकर्णी का बॉलीवुड से ड्रग्स तस्करी तक का सफर

20 अप्रैल 1972 को मुंबई में जन्मीं ममता कुलकणी ने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरूआत वर्ष 1992 में प्रदर्शित फिल्म तिरंगा से की। राजकुमार और नाना पाटेकर की मुख्य भूमिका वाली इस फिल्म में ममता ने छोटी सी भूमिका निभायी थी। इसके बाद ममता ने ‘मेरा दिल तेरे लिये’ में काम किया लेकिन अपनी पहचान नहीं बना सकी।

वर्ष 1993 में प्रदर्शित फिल्म ‘आशिक आवारा’ ममता कुलकर्णी के करियर की पहली हिट फिल्म साबित हुयी। इस फिल्म में ममता कुलकर्णी की जोड़ सैफ अली खान के साथ काफी पसंद की गयी। इसके बाद ममता  ने ‘वक्त हमारा है’ और ‘क्रांतिवीर’ जैसी हिट फिल्मों में भी काम किया


वर्ष 1995 में प्रदर्शित फिल्म ‘करण-अर्जुन’ ममता कुलकर्णी के करियर की सुपरहिट फिल्म साबित हुयी। इस फिल्म में ममता कुलकर्णी ने सलमान खान के अपोजिट काम किया। सलमान खान और ममता कुलकर्णी की जोड़ दर्शकों को बेहद पसंद आयी। पुर्नजन्म पर आधारित यह फिल्म टिकट खिड़की पर सुपरहिट साबित हुयी।

जन्मदिन विशेष : जानें ममता कुलकर्णी का बॉलीवुड से ड्रग्स तस्करी तक का सफर

वर्ष 1995 में ही ममता कुलकर्णी एक और हिट फिल्म बाजी प्रदर्शित हुयी। इस फिल्म में ममता ने आमिर खान के साथ काम किया था। इसी वर्ष प्रदर्शित सुपरहिट फिल्म ‘सबसे बड़ा खिलाड़ी’ में ममता और अक्षय कुमार की जोड़ को भी दर्शकों ने बेहद पसंद किया।

वर्ष 1996 में प्रदर्शित राजकुमार संतोषी की फिल्म ‘घातक’ में ममता कुलकर्णी ने कैमियो रोल किया। इस फिल्म में उनपर फिल्माया यह गीत। कोई जाये तो ले आये। दर्शकों के बीच काफी पसंद किया गया। इसके बाद ममता ने नसीब, चाइना गेट, छुपा रुस्तम, किला जैसी कुछ फिल्मों में अभिनय किया। 2002 में आई ‘कभी तुम कभी हम’ के बाद उन्होंने बॉलीवुड को अलविदा कह दिया।

जन्मदिन विशेष : जानें ममता कुलकर्णी का बॉलीवुड से ड्रग्स तस्करी तक का सफर

विवादों का साथ

1993 में स्टारडस्ट मैगजीन में टॉपलैस फोटोशूट कराकर वह काफी चर्चा में आ गई थीं। इसके लिए उन पर जुर्माना भी हुआ था। यही नहीं ‘चाइना गेट’ में काम करने को लेकर खबरें उड़ी थीं कि छोटा राजन के कहने पर उन्हें यह फिल्म मिली। हालांकि यह फिल्म फ्लॉप रही और इसका सुपरहिट गाना ‘छम्मा-छम्मा’ भी उर्मिला के खाते में चला गया। ममता की इस फिल्म के जरिये सीरियस इमेज दिखाने की कोशिश नाकाम रही।

जन्मदिन विशेष : जानें ममता कुलकर्णी का बॉलीवुड से ड्रग्स तस्करी तक का सफर

ड्रग तस्कर विजय गोस्वामी से कनेक्शन

शुरुआत में ममता के अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन से संबंधों की खबरें थीं, लेकिन कुछ समय बाद ही उनका नाम ड्रग तस्करी करने वाले विजय गोस्वामी (विकी) के साथ जुड़ गया। उनके साथ वह दुबई और केन्या में रह रही थीं। उन्होंने एक चैनल पर कबूला था कि उन्होंने विकी से शादी नहीं की और वह विकी से जेल में मिलने गईं थीं। ममता ने इसी इंटरव्यू में बताया कि उन्होंने सोचा था कि वह कैसे भी उन्हें जेल से बाहर निकालकर रहेंगी। विकी जेल से बाहर भी आए, लेकिन ममता भारत नहीं लौट पाईं जिस दौरान विकी जेल में थे ममता ने अपने आपको ईश्वर भक्ति में डुबो लिया था। ममता ने अध्यात्म पर एक किताब भी लिखी है, जिसका नाम है-‘ऑटोबायोग्राफी ऑफ एन योगिन।

जन्मदिन विशेष : जानें ममता कुलकर्णी का बॉलीवुड से ड्रग्स तस्करी तक का सफर

बॉलीवुड को अलविदा कहने का  कारण

एक ऑनलाइन इंटरव्‍यू में बॉलीवुड को अलविदा कहने की वजह पर ममता ने कहा, कुछ लोग दुनिया के कामों के लिए पैदा होते है, जबकि कुछ ईश्‍वर के लिए पैदा होते हैं। मैं भी ईश्‍वर के लिए पैदा हुई हूं। बॉलीवुड में वापसी पर उन्होंने इस साक्षात्कार में कहा था कि क्या घी को फिर से दूध बनाना मुमकिन है।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)