मायावती बोलीं- भ्रम ना फैलाए कांग्रेस, हमारा कोई गठबंधन नहीं; प्रियंका गांधी ने दिया ये जवाब

सपा- बसपा की राहें जुदा : मायावती ने ट्वीट कर कहा- अब सभी चुनाव अकेले लडे़ंगे

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी(बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने एक बार फिर कांग्रेेस पार्टी पर हमला बोला है। उन्होंने साफ किया कि कांग्रेस से हमारा कोई गठबंधन नहीं है और वह कोई भ्रम ना फैलाए। हम भारतीय जनता पार्टी को हराने में सक्षम हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “बीएसपी एक बार फिर साफ कर देना चाहती है कि उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में कांग्रेस पार्टी से हमारा कोई भी, किसी भी प्रकार का तालमेल व गठबंधन आदि बिल्कुल भी नहीं है। हमारे लोग कांग्रेस पार्टी के आए दिन फैलाये जा रहे किस्म-किस्म के भ्रम में कतई न आएं।”

उन्होंने आगे लिखा, “कांग्रेस उत्तर प्रदेश में भी पूरी तरह से स्वतंत्र है कि वह यहां की सभी 80 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़ा करके अकेले चुनाव लड़े, अर्थात हमारा यहां बना गठबंधन अकेले बीजेपी को पराजित करने में पूरी तरह से सक्षम है। कांग्रेस जबर्दस्ती यूपी में गठबंधन के लिए 7 सीटें छोड़ने की भ्रान्ति ना फैलाए।”


मायावती के इस रुख का सपा ने भी समर्थन किया है। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने ट्वीट किया कि उत्तर प्रदेश में एस॰पी॰, बी॰एस॰पी॰ और आर॰एल॰डी॰ का गठबंधन भाजपा को हराने में सक्षम है। कांग्रेस पार्टी किसी तरह का कन्फ़्यूज़न ना पैदा करे!


सपा-बसपा की इस नसीहत का कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने दो टूक अंदाज में जवाब दिया है। प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रहीं प्रियंका गांधी ने कहा है कि हमारे अंदर किसी प्रकार का कोई कन्फ्यूजन नहीं है, हम भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ लड़ रहे हैं।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा था कि कांग्रेस उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के लिए सात सीटों पर अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी। इन सीटों में मैनपुरी, कन्नौज, आजमगढ़, के साथ फिरोजाबाद, मुजफ्फरनगर व मथुरा की सीट शामिल हैं। उन्होंने कहा था कि हमारी पार्टी मायावती, रालोद के अजित सिंह और जयंत चौधरी के खिलाफ अपने प्रत्याशी नहीं उतारेगी।

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)