के. पलानीस्वामी की तमिलनाडु में शांति बनाए रखने की अपील, राज्यभर में कड़ी सुरक्षा

चेन्नई, 9 नवंबर (आईएएनएस)| तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने अयोध्या मामले में आने वाले फैसले के मद्देनजर शनिवार को धार्मिक और राजनीतिक नेताओं से राज्य में शांति बनाए रखने के लिए सहयोग देने की अपील की। सुप्रीम कोर्ट आज रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले में फैसला सुनाने वाला है।

यहां जारी एक बयान में, पलानीस्वामी ने कहा कि तमिलनाडु सरकार राज्य में धार्मिक शांति बनाए रख रही है और कई चरणों को पार करने के बाद शीर्ष अदालत द्वारा अयोध्या मामले में अंतिम निर्णय सुनाया जाने वाला है।


पलानीस्वामी ने कहा कि सभी पक्षों को सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का सम्मान करना चाहिए और किसी भी कानून-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न किए बिना शांति बनाए रखना चाहिए।

तमिलनाडु मुस्लिम मुनेत्र कड़गम (टीएनएमएमके) ने भी अपील की है कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला चाहे जो भी हो, शांति बनाए रखें।

टीएनएमएमके के अध्यक्ष एम. एच. जवाहिरुल्लाह ने कहा कि मुस्लिम समुदाय को कानून और शीर्ष अदालत पर भरोसा है और उम्मीद है कि फैसला इस विश्वास को मजबूत करेगा।


इस बीच, सभी धार्मिक स्थलों के पास एहतियात के तौर पर सशस्त्र पुलिस बल की तैनाती के साथ राज्य भर में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

पुलिस के अनुसार, शहर में लगभग 15,000 सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं।

इसी तरह वाणिज्यिक परिसरों और अन्य स्थानों पर जहां बड़ी संख्या में लोग इकट्ठे होते हैं, उन्हें सख्त निगरानी में रखा गया है।

राज्य भर के प्रमुख मंदिरों पर भी पुलिस नजर रखे हुए है।

कुडनकुलम में परमाणु ऊर्जा संयंत्र के आसपास, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के महेंद्रगिरि में लिक्विड प्रोपल्शन सिस्टम्स सेंटर और तूतीकोरिन में वी.ओ. चिंदबरानार बंदरगाह पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)

You May Like