15 फरवरी को कांग्रेस का ‘हाथ’ थामेंगे कीर्ति आजाद, दरभंगा से पेश करेंगे दावेदारी

BJP's suspended MP Kirti Azad all set to join Congress on 15 February in Bihar

बीजेपी के निलंबित सांसद और पूर्व क्रिकेटर कीर्ति झा आजाद कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं। सूत्रों की मानें तो कीर्ति आजाद 15 फरवरी को कांग्रेस में शामिल होने जा रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई जाएगी। इसके बाद वे मिथिलांचल का दौरा करेंगे। कीर्ति अभी बिहार के दरभंगा से सांसद हैं और आगामी लोकसभा चुनाव में इसी सीट से कांग्रेस से उम्‍मीदवार हो सकते हैं। हालांकि, इस बात की आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है।

ज्ञात हो कि कीर्ति आजाद लंबे वक्त से बीजेपी में हाशिए पर हैं। केंद्र की मोदी सरकार में वित्त मंत्री अरुण जेटली से उनकी दुश्मनी जग-जाहिर है। डीडीसीए में हुए घोटालों में वित्त मंत्री अरुण जेटली को वे जिम्मेदार ठहराते रहे हैं। इस विवाद के चलते ही उन्‍हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया था।


दरभंगा से ही लड़ेंगे चुनाव : कीर्ति

गौरतलब है कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री भागवत झा आजाद के बेटे होने के नाते कीर्ति झा के परिवार का कांग्रेस से पुराना नाता रहा है। कीर्ति झा आजाद ने कहा कि कांग्रेस में शामिल होने के बाद वे 18 फरवरी को अपने लोकसभा क्षेत्र दरभंगा पहुंचेगे। वहां समर्थकों और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर आगे की रणनीति तय करेंगे।

उन्‍होंने कहा है कि कि वे दरभंगा से ही लड़ेंगे। इस बाबत उनकी राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से बात हो चुकी है। वे लगातार तीन बारे से दरभंगा का प्रतिनिधित्व करते आ रहे हैं, इसलिए दूसरी सीट से चुनाव लड़ने का प्रश्न ही पैदा नहीं होता। लेकिन देखा जाए तो बिहार में महागठबंधन के घटक दलों के बीच सीटों को लेकर अभी कोई सहमति नहीं बन पायी है। कांग्रेस में कौन कहां से लड़ेगा, यह भी अभी तय नहीं है।

मिथिलांचल की चुनावी सरगर्मी बढ़ी

उधर, आजाद के कांग्रेस में शामिल होने की खबर से मिथिलांचल में सियासी सरगर्मी बढ़ गई है। महागठबंधन में दरभंगा से उम्मीदवारी को लेकर मामला उलझता जा रहा है। अभी तक विकासशील इंसान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी की दावेदारी की चर्चा थी। आजाद के कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा और क्षेत्र की दावेदारी से महागठबंधन के कई नेताओं का चुनावी समीकरण गड़बड़ा गया है।



बिहार- पूर्व मंत्री ने छोड़ा मांझी का साथ, कीर्ति आजाद थाम सकते हैं कांग्रेस का हाथ

बिहार : कांग्रेस की रैली में राहुल को मिला महागठबंधन का साथ

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)