अज़ीम प्रेमजी को नहीं पसंद अपनी सम्पत्ति के बारे में बात करना, जानें उसे जुड़ी कुछ खास बातें

अज़ीम प्रेमजी को नहीं पसंद अपनी सम्पत्ति के बारे में बात करना, जानें उसे जुड़ी कुछ खास बातें

देश की तीसरी बड़ी आईटी कंपनी ‘विप्रो’ (Wipro) के अध्यक्ष अज़ीम हाशिम प्रेमजी का नाम देश के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में शुमार है। एक प्रभावशाली व्यक्ति होने के बावजूद सरल और सहज व्यक्तित्व के धनी अज़ीम प्रेमजी आज अपना 74वां जन्मदिन मना रहे हैं।

अज़ीम हाशिम प्रेमजी का जन्म 24 जुलाई 1945 को मुंबई में हुआ था। महज 21 साल की उम्र में उन्होंने अपने पिता की मृत्यु के बाद कारोबार को संभाला। वह 1999 से लेकर 2005 तक भारत के सबसे धनी व्यक्ति रहे। उनका नाम देश के प्रभावशाली लोगों में शामिल किया जाता है।आइये जानते हैं उनसे जुड़ी कुछ खास बातें।


अज़ीम प्रेमजी से जुड़ी कुछ खास बातें

1. अजीम प्रेमजी आईटी कंपनी विप्रो लिमिटेड के चेयरमैन हैं।

2. अमेरिकी बिजनेस पत्रिका फोर्ब्‍स के मुताबिक वर्ष 1999 से 2005 तक अजीम प्रेमजी भारत के सबसे धनी व्यक्ति रह चुके हैं।

3. उनके बेटे रिषाद विप्रो में ही काम करते हैं।


4. प्रेमजी के कारोबार संभालने के वक्त उनकी कंपनी वेस्टर्न इंडिया वेजिटेबल प्रोडक्ट कंपनी हाइड्रोजनेटेड वेजिटेबल आयल बनाती थी। उनके नेतृत्व में साबुन तेल बनानी वाली वेस्टर्न इंडिया वेजिटेबल ने विप्रो का रूप लिया और विभिन्न उत्पादों के साथ ही विप्रो ने आईटी क्षेत्र में अपना खास मुकाम बनाया।

5. सबसे धनी व्यक्तियों में से एक होने के कारण प्रेमजी पैसों के दिखावे से हमेशा दूर रहने वाले शख्स हैं। उन्हें यह भी पसंद नहीं कि उनसे कोई उनकी संपत्ति पर बात करे या सवाल पूछे।

Image result for azim premji

6. वह पहले भारतीय हैं, जिन्होंने अपनी संपत्ति अच्छे काम के लिए दान की है।

7. उनकी संस्था ‘दि अजीम प्रेमजी फाउंडेशन’ गरीब बच्चों को प्राथमिक शिक्षा उपलब्ध कराने में योगदान देती है।

8. सामाजिक कार्यों में उनके योगदान को देखते हुए भारत सरकार ने साल 2005 में अजीम प्रेमजी को पद्म भूषण से नवाजा।

9. देश की तीसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी के चेयरमैन अजीम प्रेमजी हवाई जहाज की इकोनॉमी क्लास में सफर करना पसंद करते हैं।

10. अजीम प्रेमजी को भारत का बिल गेट्स भी कहा जाता है।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)