सुशांत की मौत का तमाशा बनाने के लिए मीडिया के साथ ट्रोलर्स पर भड़कीं कृति सेनन, जमकर लगाई लताड़

  • Follow Newsd Hindi On  
सुशांत की मौत का तमाशा बनाने के लिए मीडिया के साथ ट्रोलर्स पर भड़कीं कृति सेनन, जमकर लगाई लताड़

अपने करीबी दोस्त और बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत से आहत अभिनेत्री कृति सेनन ने सोशल मीडिया यूजर्स और मीडिया को जबरदस्त लताड़ लगाई है। कृति ने सोशल मीडिया पर एक लंबी-चौड़ी पोस्ट शेयर की है। इस पोस्ट में उन्होंने उन सारे ट्रोल्स की मलामत की है जो लगातार उन्हें मेसेज करके यह कह रहे थे कि उन्होंने सुशांत की मौत के बाद सोशल मीडिया पर कुछ नहीं लिखा है। उन्हें लगातार ट्रोल कर रहे लोगों पर बरसते हुए कृति सेनन ने लिखा, सोशल मीडिया सबसे ज्यादा फेक और जहरीला स्थान है। यह पहली बार है जब कृति सेनन का गुस्सा सोशल मीडिया पर फूटा है।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की ‘शर्मनाक’ कवरेज के लिए ‘आज तक’ को कानूनी नोटिस

कृति ने लिखा, ‘यह बड़ी अजीब बात है जब आप चले जाते हैं तो ट्रोलिंग और गॉसिप करना दुनिया में अचानक अच्छा बन जाता है। सोशल मीडिया एक फेक और सबसे ज्यादा जहरीली जगह है… और अगर आपने RIP नहीं लिखा या कुछ पब्लिकली पोस्ट नहीं किया तो समझा जाएगा कि आपको खेद नहीं है जबकि वास्तव में वही लोग सबसे ज्यादा दुख मना रहे होते हैं। ऐसा लगता है कि सोशल मीडिया ही एक ‘असल’ दुनिया बन गई है…. और असल दुनिया ‘फेक’ बन चुकी है।’


पैपराजी व मीडिया पर भी बरसीं कृति सेनन

 

कृति सेनन ने मीडिया को भी आड़े हाथों लिया है और नाराजगी भरे लहजे में लिखा, ‘कुछ मीडिया के लोग अपना उद्देश्य और संवेदनशीलता भूल गए हैं…ऐसे समय पर वे आपसे लाइव आने को बयान देने को कह रहे हैं। मतलब सच में??? कार की खिड़की पर हाथ मारकर कह रहे हैं- मैडम शीशा नीचे करो ना ताकि वे किसी के अंतिम संस्कार में जा रहे व्यक्ति की साफ तस्वीर ले सकें। अंतिम संस्कार एक बेहद निजी मसला होता है। कृपया मानवता को अपने प्रोफेशन से ऊपर रखिए। मैं मीडिया से विनती करती हूं कि या तो ऐसी जगह पर वे आया न करें या कम से कम कुछ मर्यादा और दूरी बनाकर रखें। यह मत भूलिए, ग्लैमर के पीछे हम लोग भी सामान्य इंसान हैं जिनकी आपकी तरह ही कुछ भावनाएं होती हैं।’

कृति ने यहीं नहीं रुकीं बल्कि उन्होंने पत्रकारिता के लिए कुछ नियमों की भी मांग उठा दी। उन्होंने लिखा, ‘पत्रकारिता के लिए कुछ नियम होने चाहिए। किसी को यह बताना चाहिए कि क्या स्वीकार्य है और क्या नहीं है। क्या चीज पत्रकारिता के दायरे में आती है और क्या चीज ‘इससे आपको कोई मतलब नहीं होना चाहिए’ और ‘जियो और जीने दो’ के दायरे में आती है। बिना किसी आधार के कुछ भी लिखा गया गैरकानूनी होना चाहिए और इसे मानसिक उत्पीड़न की श्रेणी में रखा जाना चाहिए। इसलिए या तो कोई सबूत हो और या इतनी हिम्मत हो कि किसी के बारे में कोई कुछ लिख सके वरना बिल्कुल न लिखे। आपको नहीं पता कि जिसे आप जर्नलिजम कहते हैं उससे किसी के दिमाग, परिवार और जिंदगी पर कितना बुरा असर पड़ता है। छोटी मोटी जीत ज्यादातर सही नहीं होती…’

ट्रोलर्स पर नाराजगी जताते हुए कृति ने लिखा, ‘आरोप लगाने का खेल कभी खत्म नहीं होता। किसी के भी बारे में बुरी बातें लिखना बंद कीजिए। किसी के बारे में गॉसिप करना… आप किसी के बार में सबकुछ जानते हैं ये सोचना या आपका विचार ही सच है, ऐसा मनना बंद कीजिए…हर आदमी एक लड़ाई लड़ रहा है और आप उसके बारे में कुछ नहीं जानते हैं। इसलिए अगर कुछ भी नेगेटिव बात, ट्रोलिंग या आलोचना आपके मुंह से निकलती है तो उससे पता चलता है कि आप क्या हैं, न कि जिसके बारे में आप कह रहे हैं.. ज्यादातर इनको नज़रअंदाज कर दिया जाता है या इससे फर्क नहीं पड़ता लेकिन कहीं न कहीं यह हमारे अवचेतन मन को किसी और चीज से ज्यादा प्रभावित करता है।’

मेन्टल हेल्थ के बारे में कृति आगे लिखती हैं, ‘हमें ऐसी लाइनें कहनी बंद कर देनी चाहिए जैसे- लड़के नहीं रोते, ऐसे नहीं रोते, रोना बंद करों मजबूत बनो।… रोना कमजोरी की निशानी नहीं है….इसलिए जरूरत पड़ने पर खुलकर रोना चाहिए और चिल्लाना चाहिए। आप क्या महसूस कर रहे हैं, इस बारे में बात कीजिए, अगर अच्छा नहीं लग रहा है तो ठीक है लेकिन किसी ऐसे व्यक्ति बात करें जो शायद आपको समझता हो। खुद को नॉर्मल होने के लिए वक्त लें… अपने परिवार और ऐसे लोगों को साथ लें जो आपकी चिंता करते हों… कभी उन्हें जाने न दें… वे ही ताकत हैं और कुछ भी हो आपके साथ डटे रहेंगे…इसलिए उन्हें अपने आसपास रखें। कोई भी इतना मजबूत नहीं होता जो जिंदगी से अकेला लड़ सके।’

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत और कृति सैनन ने फिल्म ‘राब्ता’ में साथ काम किया था। इस फिल्म के दौरान इन दोनों के कथित अफेयर के भी चर्चे थे हालांकि कभी दोनों ने ही इसे स्वीकार नहीं किया था। 15 जून को सुशांत सिंह राजपूत को अंतिम विदाई देने के लिए कृति किसी तरह हिम्मत करके श्मशान भूमि पहुंचीं। कल ही कृति ने सुशांत की याद में इंस्टाग्राम पर एक अत्यंत भावुक पोस्ट लिखा। साथ में उन्होंने ऐक्टर के साथ बिताए लम्हों की कुछ पुरानी तस्वीरें भी पोस्ट कीं।

कृति सेनन ने लिखा, ”सुश…मुझे पता था कि आपका शानदार दिमाग आपका सबसे अच्छा दोस्त और सबसे बड़ा दुश्मन था। लेकिन ये जानकर मैं पूरी तरह से टूट चुकी हूं कि तुम्हारी जिंदगी में एक ऐसा पल आया जहां तुम्हें जिंदा रहने के बजाय मरना आसान लगा।”

अभिनेत्री ने आगे लिखा, ”काश तुम्हारे आसपास लोग होते, जिनके साथ तुम अपने उन पलों को शेयर कर पाते। काश तुमने उन लोगों को ये झटका नहीं दिया होता, जिन्होंने तुमसे बहुत प्यार किया। काश मैं उसे जोड़ सकती जो तुम्हारे अंदर टूटा गया था। लेकिन मैं नहीं कर सकी…मैं इतनी सारी चीजों की कामना करती हूं। मेरे दिल का एक हिस्सा आपके साथ ही चला गया है और एक हिस्सा तुम्हें हमेशा जिंदा रखेगा। मैंने कभी तुम्हारी खुशी के लिए प्रार्थना करना बंद नहीं किया और न ही कभी करूंगी।”


बिहार: मुजफ्फरपुर में सलमान खान, करण जौहर और एकता कपूर समेत 8 पर मुकदमा

2018 के बाद से सुशांत को नहीं मिली कोई फिल्म, लॉकडाउन के चलते आखिरी फिल्म की रिलीज भी लटकी

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)