बीजेपी के सांसद से डरते हैं दक्षिणी दिल्ली के लोग, केजरीवाल के काम पर देंगे वोट: राघव चड्ढा

बीजेपी के सांसद से डरते हैं दक्षिणी दिल्ली के लोग, केजरीवाल के काम पर देंगे वोट: राघव चड्ढा

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) के दक्षिणी दिल्ली से लोकसभा उम्मीदवार राघव चड्ढा (Raghav Chadha) का मानना है कि राष्ट्रीय राजधानी में रह रहे लोग पार्टी द्वारा किए गए कार्यो व उनके नेता व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के बीते चार साल के काम पर वोट देंगे।

महज 30 साल के चार्टर्ड अकाउंटेंट ने वर्ष 2012 में उन दिनों राजनीति में कदम रखा था, जब इंडिया अगेंस्ट करप्शन आंदोलन से आम आदमी पार्टी (आप) का उदय हुआ था।


चड्ढा, बीजेपी के मौजूदा सांसद रमेश बिधूड़ी (57) व कांग्रेस के सेलिब्रिटी उम्मीदवार बॉक्सर विजेंदर सिंह (33) के खिलाफ मुकाबले में है। चड्ढा का मानना है कि वह सबसे कम उम्र के उम्मीदवार होने की वजह से युवाओं को अपील करेंगे।

उन्होंने कहा, “यह चुनाव बीजेपी को हराने के लिए है। यह दिल्ली के लोगों व भाजपा व उसके उम्मीदवार बिधूड़ी के बीच है।”

चड्ढा ने कहा कि आप ने 2015 में सत्ता में आने के बाद बिजली, जलापूर्ति, स्वास्थ्य व शिक्षा के क्षेत्र में बहुत से कार्य किए हैं।


उन्होंने कहा, “भाजपा व कांग्रेस ने शहर में 70 सालों के शासन में कभी इतना कार्य नहीं किया। इस बार लोग केजरीवाल व उनके कार्यो के लिए वोट करेंगे।”

राघव ने कहा, “लोगों ने केजरीवाल सरकार के कार्यो को देखा है।”

यह जिक्र करने पर कि भाजपा उम्मीदवार का भी मानना है कि उनकी पार्टी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वजह से वोट मिलेगा, उन्होंने कहा कि बिधूड़ी एक आदर्श उम्मीदवार नहीं हैं और लोग अपने मुद्दे के साथ उनके कार्यालय जाने या उनसे संपर्क करने से डरते हैं।

उन्होंने कहा, “लोग बीजेपी सांसद से नाखुश हैं। वे उनसे संपर्क करने से डरते हैं। लोगों का मानना है कि उनसे संपर्क करने पर पिटाई हो सकती है या बुरा बर्ताव हो सकता है। जिस तरीके से वह बात करते हैं व लोगों से व्यवहार करते हैं, वह चुनाव में एक प्रमुख कारक बनेगा। लोग एक शिक्षित व ईमानदार आदमी चाहते हैं, जो उनके मुद्दों को समझ सके और उनका समाधान कर सके।”

कांग्रेस व उसके उम्मीदवार को अप्रासंगिक बताते हुए उन्होंने कहा, “उन्होंने एक सेलिब्रिटी को उम्मीदवार बनाया, क्योंकि दक्षिणी दिल्ली में स्थानीय स्तर पर उनके पास न तो कोई नेता है न कार्यकर्ता।”

राघव ने कहा, “सेलिब्रिटी यहां चुनावों से कुछ दिन पहले आते हैं और जल्द ही गायब हो जाते हैं। व पांच साल तक गायब रहते हैं और जनता परेशान रहती है। मैं स्थानीय व्यक्ति हूं जो स्थानीय मुद्दों को समझता हूं। मुझे पता है कि किस चीज पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।”

बिधूड़ी ने दक्षिणी दिल्ली लोकसभा सीट 2014 में 497,980 वोटों (45.34 फीसदी) से जीती थी, जबकि कर्नल देवेंद्र सहरावत (आप) 390,980 वोटों के साथ दूसरे स्थान पर रहे और कांग्रेस के रमेश कुमार को 125,213 वोट मिले थे। सहरावत इस बार भाजपा में शामिल हो गए हैं।

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)