औरंगाबाद: दिवाली बोनस नहीं मिला तो नाराज कर्मचारी ने घूंसा मारकर तोड़ा मालिक का दांत

औरंगाबाद: दिवाली बोनस नहीं मिला तो नाराज कर्मचारी ने घूंसा मारकर तोड़ा मालिक का दांत

प्रकाश पर्व दिवाली के मौके पर देश में कर्मचारियों को बोनस देने की परंपरा है। कंपनियां बिना मांगे अपने कर्मचारियों को उपहार और बोनस देती हैं। हालांकि, महाराष्ट्र के औरंगाबाद से एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसमें दिवाली बोनस नहीं मिलने के चलते एक मजदूर ने अपने मालिक को पीट दिया और उसके दांत तोड़ दिए। यह घटना शुक्रवार रात को चिकलथाना के एमआईडीसी क्षेत्र में हुई। इस संबंध में पुलिस स्टेशन में मुकदमा दर्ज किया गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक 50 वर्षीय भीमा चंद्रदेव जोशी नामक एक लेबर कॉन्ट्रैक्टर का कथित तौर पर अपहरण कर लिया गया था। यह घटना 26 अक्टूबर को शाम लगभग 5.30 बजे उत्तरनगरी में चिकलथाना के एमआईडीसी इलाके में हुई थी। इस लेबर कॉन्ट्रैक्टर को पीटने वाले मजदूर का नाम बालू पठारे है और वह ब्रिजवाडी के गांधीनगर इलाके का रहने वाला है।


बताया जा रहा है कि आरोपी बालू पठारे ने मालिक भीमा जोशी से दिवाली बोनस की मांग की, लेकिन जोशी ने यह कहते हुए मना कर दिया कि अभी उसके पास पैसे नहीं हैं। जब उसके पास पैसे आएंगे तो वह उन्हें बोनस देगा। इसी बात पर दोनों के बीच बहस होने लगी और इसी क्रम में बालू नाराज होकर जोशी की पिटाई करने लगा। बालू ने जोशी के मुंह पर घूंसे मारे, जिससे जोशी के दांत टूट गए। एमआईडीडी पुलिस स्टेशन में इस संबंध में एक आपराधिक मुकदमा दर्ज किया गया है और पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही है।


पति का अजीब दावा- फ्रेंच किस करते वक्त चिपक गई थी बीवी की जीभ, इसलिए काट डाला


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)