महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन के लिए लोजपा ने की BJP की निंदा, चिराग पासवान ने कही ये बात

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन के लिए लोजपा ने की BJP की निंदा, चिराग पासवान ने कही ये बात

नई दिल्ली। भाजपा के नेतृत्व वाले राजग की घटक लोजपा ने झारखंड में अकेले चुनाव लड़ने का फैसला लेने के बाद महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू किए जाने को लेकर भाजपा की निंदा की। लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने मंगलवार को महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू किए जाने को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया और कहा कि यह दुखद है कि भाजपा-शिवसेना ने अपनी-अपनी महत्वाकांक्षाओं के लिए सरकार नहीं बनाई।

चिराग ने ट्वीट किया, “महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू करना दुर्भाग्यपूर्ण है। लोगों ने राजग को जनादेश दिया था। यह दुखद है कि पार्टियों ने अपनी-अपनी महत्वाकांक्षाओं के लिए सरकार नहीं बनाई।”



चिराग की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब उनकी पार्टी ने झारखंड में अकेले चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है।चिराग पासवान ने पिछले ही सप्ताह पार्टी की कमान अपने पिता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान से अपने हाथों में ली है। वह पिछले कुछ दिनों से भाजपा की आलोचना कर रहे हैं।

इसके पहले सोमवार को उन्होंने पटना में संवाददाताओं से कहा था कि उनकी पार्टी टोकन के रूप में सीटें स्वीकार नहीं करेगी।लोजपा नेता के अनुसार, पार्टी राज्य में छह सीटें मांग रही है, जहां 30 नवंबर से 20 दिसंबर तक पांच चरणों में चुनाव होने हैं।

चिराग ने मंगलवार सुबह स्पष्ट किया कि उनकी पार्टी झारखंड में अकेले चुनाव लड़ेगी और 50 सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी। पार्टी ने पहले चरण के चुनाव के लिए पांच उम्मीदवारों की बाद में घोषणा भी की।


झारखंड: 50 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी लोजपा, जारी किए 5 उम्मीदवारों के नाम

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)